होम विदेश Pakistan-Taliban के रिश्ते उजागर, America ने जताई नाराजगी, Social media पर भी...

Pakistan-Taliban के रिश्ते उजागर, America ने जताई नाराजगी, Social media पर भी विरोध

Pakistan-Taliban के रिश्ते अब दुनिया के सामने उजागर हो गए है। अब बाइडन सरकार (Biden Government) ने पाकिस्तान के साथ रिश्तों की नए सिरे से समीक्षा करने का फैसला किया है। इससे दोनों देशों के रिश्ते और खराब हो सकते हैं। तालिबान के साथ अपने रिश्तों को लेकर पाकिस्तान सरकार हमेशा छुपाती रहा है और अंदरूनी सपोर्ट करती रही है। अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने अमेरिकी सदन में कहा कि तालिबान शासित सरकार को मान्यता चाहिए तो उसे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खरा उतरना होगा। साथ ही उन्होंने पाक‍ से कहा है कि तालिबान को मान्यता देने में जल्दी ना करें।

इमरान ने तालिबान को बताया था समान्य नागरिक

कुछ समय पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Pakistan Prime Minister Imran Khan) ने कहा था कि अमेरिका ने ही अफगानिस्तान में गड़बड़ किया है, जिसका खामियाजा अफगानिस्तान भुगत रहा है। उन्होंने 2001 के आक्रमण के लिए अमेरिका पर सवाल भी उठाए थे। यही नहीं इमरान ने तालिबान को सामान्य नागरिक बता दिया था। वहीं पाकिस्तान सरकार के इशारे पर हक्कानी नेटवर्क को तालिबान सरकार में महत्वपूर्ण पद दिए गए। वहीं पंजशीर घाटी में युद्ध के दौरान तालिबान में करीब 500 पाकिस्तानियों के शामिल होने की बात सामने आई।

तालिबान को लेकर पाक का दोहरा चरित्र

जानकारों का कहना है कि पाकिस्तान हमेशा कहता रहा कि वह अफगानिस्तान सरकार की मदद कर रहा है, जबकि वह तालिबान की मदद करता रहा। अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी के बाद पाकिस्तान खुलकर तालिबान के साथ आ गया है, पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आइएसआई ने तालिबान सरकार के गठन में अहम भूमिका निभाई।

इन तमाम बातों को देखते हुए अमेरिका, पाकिस्तान के साथ संबंधों की समीक्षा कर रहा है। पाकिस्तान पर अमेरिकी संसदों के अलावा दुनिया भर के लोगों ने नाराजगी जताई है। तालिबान और पाकिस्तान के संबंधों को लेकर बाइडन प्रशासन ने माना है कि पाक का हक्कानी नेटवर्क के साथ संपर्क था और पाक को इमरान सरकार ने शरण दी थी।

अमेरिकी सांसदों ने पाकिस्तान के खिलाफ एक्शन की मांग की है। सीनेट के कुछ सदस्यों ने गैर-नाटो सहयोगी के तौर पर दर्जा खत्म करने और वित्तीय मदद रोकने के लिए कहा है। अफगानिस्तान में बड़ी संख्या में अमेरिकी सैनिकों को मारा गया, पाकिस्तान अमेरिका से अरबों डालर की मदद लेता रहा और तालिबान की मदद करता रहा।

बाइडन की लोकप्रियता हुई कम

अफगानिस्तान में अमेरिकी सैनिकों की वापसी के बाद राष्ट्रपति जो बाइडन पर लोग सवाल उठा रहे हैं और इस फैसले के बाद उनकी लोकप्रियता में भी गिरावट आई है। उनकी अपनी ही पार्टी उनका विरोध कर रही है और उनकी रेटिंग 50 फीसद से नीचे गिर गई है। इसके अगले साल चुनाव में उनकी पार्टी कमजोर हो सकती है।

दुनिया भर में सोशल मीडिया पर भी पाकिस्तान तालिबान के रिश्ते बताए जा रहे हैं, एक यूजर का कहना है कि ”पाकिस्तान और तालिबान स्टेट स्पॉन्सर्ड ग्रुप है, जिसका काम दुनियाभर में शांति खत्म करना और विस्तार करना है, इसका हालिया उदाहरण अफगानिस्तान है।”

ये भी पढ़ें

Afghanistan में सरकार गठन के बाद Taliban में फूट, Mullah Abdul Ghani Baradar ने छोड़ा काबुल!

Taliban से RSS की तुलना को लेकर घिरे Javed Akhtar, BJP नेता बोले-माफी मांगे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

T20 World Cup : Scotland ने किया बड़ा उलटफेर, बांग्लादेश को 6 रनों से हराकर सबको चौंकाया

T20 World Cup के दूसरे मैच में ही बड़ा उलटफेर हो गया। इस मैच में Scotland ने Bangladesh को 6 रनों से हराकर मुकाबले को जीत लिया। स्कॉटलैंड की टीम ने बांग्लादेश को हराकर सभी टीमों को सतर्क कर दिया। स्कॉटलैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 9 विकेट के नुकसान पर 140 रन बनाए। जवाब में बांग्लादेश की टीम 7 विकेट खोकर 134 रन ही बना सकी। क्रिस ग्रीव्स को हरफनमौला खेल (45 एवं 2/19) के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया।

Priyanka Gandhi Vadra होंगी UP Congress चुनाव अभियान का चेहरा : P L Punia

प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) उत्तर प्रदेश (UP) में कांग्रेस के चुनाव अभियान का चेहरा होंगी, ये बात कांग्रेस नेता पीएल पुनिया (PL Punia) ने आज कहा। पुनिया को अगले साल यूपी चुनावों के लिए कांग्रेस की प्रमुख 20-सदस्यीय चुनाव प्रचार समिति के प्रमुख के रूप में नामित किया गया है,

17 अक्टूबर: देश के कई हिस्सों में भारी बारिश, पढ़ें दिन भर की तमाम बड़ी खबरें

Kerala में भारी बारिश से मची तबाही के कारण कम से कम पांच लोगों की मौत हो गई है। जानकारी के मुताबिक भारी बारिश की वजह से इडुक्की और कोट्टायम जिलों में कई जगहों पर भूस्खलन हुआ, जिसके कारण यह हादसा हुए। एनडीआरएफ का राहत दल तुफान और बारिश में फंसे लोगों को बचाने में दिन-रात लगी हुई है।

सिंघु बॉर्डर में हुई दलित व्‍यक्ति की मौत पर बसपा प्रमुख Mayawati ने सीबीआई जांच की मांग की, कहा – मामला गंभीर है

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा प्रमुख Mayawati ने सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर कथित तौर पर निहंग सिख द्वारा की गई एक दलित व्यक्ति मौत की पर सीबीआई जांच की मांग की है।