होम राजनीति PM Modi का अलीगढ़ दौरा: पीएम ने राजा महेन्द्र प्रताप सिंह University...

PM Modi का अलीगढ़ दौरा: पीएम ने राजा महेन्द्र प्रताप सिंह University का किया शिलान्यास, कहा- देश का दुर्भाग्य है कि महान व्यक्तित्वों से अगली पीढ़ियों को परिचित नहीं कराया गया

PM Modi का अलीगढ़ दौरा: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) आज अलीगढ़ के दौरे पर थे। PM Modi ने राजा महेंद्र प्रताप सिंह (Raja Mahendra Pratap Singh University) विश्वविद्यालय का शिलान्यास किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारी आजादी के आंदोलन में ऐसे कितने ही महान व्यक्तित्वों ने अपना सब कुछ खपा दिया लेकिन ये देश का दुर्भाग्य रहा कि आजादी के बाद ऐसे राष्ट्र नायक और राष्ट्र नायिकाओं की तपस्या से देश की अगली पीढ़ियों को परिचित ही नहीं कराया गया।

बता दें कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (Aligarh Muslim University) का नाम बदलकर राजा महेंद्र प्रताप के नाम पर रखने की BJP की पुरानी मांग के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज यानी मंगलवार को इस स्वतंत्रता सेनानी के नाम पर एएमयू के बगल में बनने वाले एक नए विश्वविद्यालय की आधारशिला रखें है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को अलीगढ़ जाकर जिले के लोढ़ा इलाके में आयोजित होने वाले प्रधानमंत्री के कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लिया था।

अलीगढ़ में पीएम मोदी ने लोगों के किया संबोधित

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज अलीगढ़ और पश्चिमी यूपी के लिए यह एक बड़ा दिन है। आज राधाष्टमी का दिन है। हमारे भारत में ऐसे संस्कार है कि जब शुभ कार्य होता है तो अपने बड़े को याद किया जाता है। इस धरती के महान सपूत कल्याण सिंह की अनुपस्थिति महसूस कर रहा हूं। आज कल्याण सिंह होते तो राजा के नाम से विश्वविद्यालय के शिलान्यास को देखकर बहुत खुश होते। पीएम ने आगे कहा कि ऐसे राष्ट्रनायक और राष्ट्रनायिकाओं से देश से परिचित नहीं कराया गया। इन गलतियों को आज 21 वीं सदी का भारत सुधार रहा है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने ओडीओपी के तहत सरकार ने तालों और हार्डडवेयर को नई पहचान दिलाने का काम किया जा रहा है।

पीएम मोदी की अगुवाई में भारत दुनिया के लिए मिसाल बना

इस कार्यक्रम को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संबोधित किया। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पूरी दुनिया कोरोना से लड़ रही है, ऐसे समय में भारत में जीवन और जीविका को बचाने के लिए देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में आगे बढ़ रहा है। पीएम मोदी की अगुवाई में भारत दुनिया के लिए मिसाल बना हुआ है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अलीगढ़ पहुंचते ही राजा महेन्द्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय के माडल का जायजा लिया। इस दौरान उनके साथ राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, सीएम योगी आदित्यनाथ और डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा भी थे। इससे पहले बड़ी सौगात देने अलीगढ़ पहुंचे पीएम नरेन्द्र मोदी का हवाई पट्टी पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा ने स्वागत किया।

PM Modi ki Alighrh ko Saugat

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब से कुछ देर बाद अलीगढ़ पहुंचें। वहां के महान स्वतंत्रता सेनानी, शिक्षाविद् और समाज सुधारक राजा महेन्द्र प्रताप सिंह जी के नाम पर एक नए विश्वविद्यालय के शिलान्यास किया। प्रधानमंत्री मोदी ने खुद ट्विट कर यह जानकारी दी थी कि देश के शिक्षा जगत के लिए आज का दिन बेहद महत्वपूर्ण है। दोपहर 12 बजे उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में महान स्वतंत्रता सेनानी, शिक्षाविद् और समाज सुधारक राजा महेन्द्र प्रताप सिंह जी के नाम पर एक नए विश्वविद्यालय के शिलान्यास का अवसर मिलेगा।

गौरतलब है कि साल 2014 में भाजपा के कुछ स्थानीय नेताओं ने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय का नाम बदलकर राजा महेंद्र प्रताप के नाम पर रखने की मांग की थी। उनकी दलील थी कि राजा ने एएमयू की स्थापना के लिए जमीन दान की थी। यह मामला तब उठा था जब एएमयू के अधीन सिटी स्कूल की 1.2 हेक्टेयर जमीन की पट्टा अवधि समाप्त हो रही थी और राजा महेंद्र प्रताप सिंह के कानूनी वारिस इस पट्टे की अवधि का नवीनीकरण नहीं करना चाहते थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आज अलीगढ़ आगमन का मिनट-ट- मिनट कार्यक्रम

मिली जानकारी के अनुसार, पीएम आज सुबह दिल्ली से सुबह 10:45 बजे अलीगढ़ के लिए उड़ान भरे थे।
11 बजकर 35 पर अलीगढ़ के लोढ़ा ग्राम स्थित राजकीय यूनिवर्सिटी राजा महेंद्र प्रताप सिंह कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे थे।
कार्यक्रम स्थल पर उतरने के बाद डिफेंस कॉरिडोर व स्टेट यूनिवर्सिटी के बारे में बनाए गए मॉडल का निरीक्षण किए थे।

दोपहर 12 बजे मंच पर थे पीएम नरेंद्र मोदी
पीएम मोदी के साथ यूपी की गवर्नर आनंदी बेन पटेल, सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा, यूपी के कैबिनेट मंत्री सुरेश राणा, सतीश महाना, राज्यमंत्री संदीप सिंह, सांसद अलीगढ़ सतीश गौतम एटा सांसद राजवीर सिंह, हाथरस सांसद राजवीर दिलेर, अलीगढ़ जिला पंचायत अध्यक्ष विजय सिंह उपस्थित थे।
दोपहर 12 बजकर 15 मिनट पर राजा महेंद्र प्रताप सिंह स्टेट यूनिवर्सिटी व डिफेन्स कॉरिडोर सहित 700 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किए।

ये भी पढ़ें- पीएम मोदी ने दी सोमनाथ मंदिर को सौगात, कई परियोजनाओं का किया शिलान्‍यास

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

T20 World Cup : Pakistan ने लिया बदला, New Zealand को 5 विकेट से हराया

T20 World Cup 2021 के सुपर 12 के मुकाबले में Pakistan ने New Zeeland को 5 विकेट से हराया। इस जीत के साथ पाकिस्तान ने बदला भी ले लिया। पिछले महीने में न्यूजीलैंड की टीम पाकिस्तान से बिना मैच खेले वापस लौट गई थी और आज पाकिस्तान ने न्यूज़ीलैंड को हराकर पाकिस्तान ने अपना बदला पूरा कर लिया। पाकिस्तान ने पहले मैच में भारत को 10 विकेटों से हराया था और इस मैच में न्यूजीलैंड को 5 विकेटों से हराकर बाकी टीमों को बता दिया कि वो भी किसी से कम नहीं है। न्यूज़ीलैंड ने पहले खेलते हुए 8 विकेट के नुकसान पर 134 रन बनाए। जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तान ने 5 विकेट खोकर मुकाबले को जीत लिया। पाकिस्तान के हारिस रउफ ने शानदार गेंदबाजी करते हुए 4 विकेट लिए।

दिल्ली हाईकोर्ट ने कोरोना महामारी के आधार पर रिहा कैदियों की जमानत बढ़ाने से किया इंकार, पढ़ें 26 अक्टूबर की सभी बड़ी खबरें…

APN Live Update: दिल्ली हाई कोर्ट ने कोरोना महामारी के आधार पर जमानत पर रिहा किए गए विचाराधीन कैदियों की अंतरिम जमानत...

Sameer Wankhede के खिलाफ नवाब मलिक द्वारा भेजे गए पत्र पर नहीं होगी कोई कार्रवाई: NCB

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो का कहना है कि महाराष्ट्र के मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक द्वारा एनसीबी के महानिदेशक को भेजे गए गुमनाम पत्र पर कोई कार्रवाई शुरू नहीं की जाएगी। पत्र में एनसीबी मुंबई के क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े के खिलाफ आरोप लगाए गए थे।

Sports News Updates : New Zealand से Pakistan लेगी बदला, पढ़ें खेल से जुड़ी दिनभर की सभी बड़ी खबरें

T20 World Cup 2021 में आज का मुकाबला Pakistan और New Zealand के बीच खेला जा रहा है। पाकिस्तान ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया। पाकिस्तान आज जीतकर न्यूजीलैंड से बदला भी लेना चाहेगी। न्यूजीलैंड के बिना खेले लौट जाने के बाद पाकिस्तान पर बहुत दबाव पड़ा था। जिसका बदला आज पाकिस्तान की टीम लेना चाहेगी।