Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

देश के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दो दिवसीय गुजरात दौरे के दौरान शनिवार सुबह स्टैच्यू ऑफ यूनिटी पहुंचे और सरदार पटेल को पुष्पांजलि अर्पित की। इसके बाद पीएम मोदी राष्ट्रीय एकता दिवस परेड में शामिल हुए। प्रधानमंत्री ने केवड़िया में राष्ट्रीय एकता दिवस परेड का निरीक्षण किया और परेड की सलामी ली। इस परेड में देश की सभी सुरक्षा एजेंसियों के जवान शामिल हुए। परेड से पहले पीएम मोदी ने सुरक्षा एजेंसियों के जवानों को राष्ट्रीय एकता और सुरक्षा की शपथ दिलाई। इस दौरान केवड़‍िया में दिल्‍ली के राजपथ पर होने वाली परेड जैसा नजारा दिखा।

इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा है कि राष्ट्रीय एकता और अखंडता के अग्रदूत लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल का देश सदैव ऋणी रहेगा। आज भारत जो कुछ भी है, उनकी बड़ी भूमिका है।

प्रधानमंत्री ने इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सरदार पटेल की दुहाई देते हुए राजनीतिक दलों से कहा कि मैं ऐसे राजनीतिक दलों से आग्रह करूंगा कि देश की सुरक्षा के हित में, हमारे सुरक्षाबलों के मनोबल के लिए, कृपा करके तुच्छ राजनीति न करें, ऐसी चीजों से बचें। अपने स्वार्थ के लिए, जाने-अनजाने आप देश विरोधी ताकतों की हाथों में खेलकर, न आप देश का हित कर पाएंगे और न ही अपने दल का।

पुलवामा हमले को लेकर पाकिस्तान के कबूलनामे के बाद पीएम मोदी ने पहली बार कहा कि जब हमारे देश के जवान शहीद हुए थे उस वक्त भी कुछ लोग राजनीति में लगे हुए थे। ऐसे लोगों को देश भूल नहीं सकता है। पीएम ने कहा कि उस वक्त वे सारे आरोपों को झेलते रहे, भद्दी भद्दी बातें सुनते रहे। मेरे दिल पर गहरा घाव था। लेकिन पिछले दिनों पड़ोसी देश से जिस तरह से खबरें आई है, जो उन्होंने स्वीकार किया है, इससे इन दलों का चेहरा उजागर हो गया है।

पीएम ने कहा, “जिस प्रकार वहां की संसद में सत्य स्वीकारा गया है, उसने इन लोगों के असली चेहरों को देश के सामने ला दिया है। अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए, ये लोग किस हद तक जा सकते हैं, पुलवामा हमले के बाद की गई राजनीति, इसका बड़ा उदाहरण है।”

पीएम मोदी आज सुबह करीब 11 बजे सिविल सर्विसेज प्रोबेशनर्स को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने ट्रेनी आईएएस अफसरों से कहा कि अपने दिमाग में बाबू मत आने दीजिए, उन्होंने कहा कि आप कहां से आए हैं इसका ख्याल रखिए। पीएम ने कहा कि अफसरों को Rule और Role का ख्याल रखना चाहिए।  उन्होंने अफसरों से कहा कि आपको ध्यान यह भी रखना है छपास और दिखास का रोग न लगे, नहीं तो आप लक्ष्य हासिल नहीं कर पाएंगे।  जनता जनार्दन ही असली ड्राइविंग फोर्स है। इसलिए हमें government से governance की तरफ बढ़ने की जरूरत हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज देश जिस mode में काम कर रहा है, उसमें आप सभी bureaucrats की भूमिका Minimum Government, Maximum Governance की ही है। आपको ये सुनिश्चित करना है कि नागरिकों के जीवन में आपका दखल कैसे कम हो, सामान्य मानवी का सशक्तिकरण कैसे हो।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एकता दिवस के मौके पर साबरमती रिवर फ्रंट में देश के पहले सी प्लेन सेवा की शुरूआत कीसी प्लेन कई मायनों में खास है ये हल्का होता है और कम ईंधन में उड़ान भर सकता है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस सी प्लेन से पीएम मोदी  केवड़िया से साबरमती की यात्रा पर निकले हैं

इस सी प्लेन सेवा के जरिए लोग अहमदाबाद के साबरमती रिवर फ्रंट से केवड़िया में स्टैच्यू ऑफ यूनिटी तक की यात्रा कर सकेंगे। हम आपको बता दें कि सी प्लेन असल में ट्विन ऑट्टर 300 सी-प्लेन है इसका वजन 3,377 किलो है इसमें 1,419 लीटर तक पेट्रोल भरा जा सकता है हर एक घंटेकी उड़ान के लिए लिए ये सिर्फ 272 लीटर पेट्रोल खर्च करता है

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.