होम देश Rajnath Singh के बयान पर राजनीति तेज, AIMIM नेता असदुद्दीन ओवैसी ने...

Rajnath Singh के बयान पर राजनीति तेज, AIMIM नेता असदुद्दीन ओवैसी ने कहा- ये एक दिन सावरकर को दे देंगे राष्ट्रपिता का दर्जा

Rajnath Singh के सावरकर को लेकर दिए गए बयान पर अब राजनीति तेज हो गयी है। AIMIM नेता असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने कहा है कि ये लोग इतिहास को तोड़कर पेश कर रहे हैं। एक दिन ये लोग महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) को राष्ट्रपिता के दर्जे से हटाकर सावरकर को ही राष्ट्रपिता बना देंगे। न्यायाधीश जीवन लाल कपूर की जांच में सावरकर को गांधी की हत्या में शामिल पाया गया था.’’

‘गांधी के कहने पर डाली थी दया याचिका’

Rajnath Singh ने सावरकर को देश का पहला रक्षा विशेषज्ञ बताया था। उन्होंने कहा था कि वीडी सावरकर (Vinayak Damodar Savarkar) ने भारत को “मजबूत रक्षा और राजनयिक सिद्धांत” के साथ प्रस्तुत किया। साथ ही उन्होंने उनकी तुलना शेर से की। रक्षा मंत्री ने एक किताब के विमोचन कार्यक्रम में यह बात कही। इस कार्यक्रम में संघ प्रमुख मोहन भागवत भी मौजूद थे। राजनाथ सिंह ने कहा कि उन्हें बदनाम करने का एक अभियान चलाया गया है। वो एक महान स्वतंत्रता सेनानी थे। जिसे लेकर कोई दो राय नहीं होनी चाहिए।

राजनाथ सिंह यहीं नहीं रुके उन्होंने कहा कि जहां तक बात दया याचिका की है तो उन्होंने गांधी के कहने पर ही इस याचिका को दायर किया था। ये झूठ है कि उन्होंने अंग्रेजों के सामने दया याचिका दी थी। साथ ही उन्होंने कहा कि सावरकर को लेकर तथ्यहीन बातें कही जाती है।

सावरकर को बदनाम किया गया: मोहन भागवत

विनायक दामोदर सावरकर यानी वीर सावरकर पर लिखी एक पुस्तक के विमोचन कार्यक्रम में कहा कि स्वतंत्रता के बाद बदली हुई परिस्थितियों में वीर सावरकर को बदनाम करने के लिए, उनकी प्रतिष्ठा को धूमिल करने के लिए बहुत से प्रयास किये गये। ऐसा इसलिए क्योंकि उनके राष्ट्रवाद की अवधारणा को समझा ही नहीं गया या उसे समझने से जनमानस को रोका गया।

सावरकर के बाद अब स्वामी विवेकानंद, स्वामी दयानंद सरस्वती और श्रीअरविंद को भी बदनाम करने की साजिश होगी क्योंकि वीर सावरकर इन तीनों महापुरूषों के विचारों से प्रभावित थे। आरएसएस प्रमुख ने कहा कि आज के माहौल में सावरकर जी का हिन्दुत्व, विवेकानंद का हिन्दुत्व बोला जाता है और यह एक फैशन जैसा हो गया है, जबकि हिन्दुत्व एक है। हिंदुत्व पहले से है और अंत तक उसका स्वरूप एक ही रहेगा।

Rajnath Singh ने सावरकर को बताया देश का पहला रक्षा विशेषज्ञ, शेर से की तुलना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Bigg Boss 15: Abhijit Bichukale ने कहा Rakhi Sawant के पति किराए पर हैं, भड़की एक्ट्रेस ने खींचे बाल

Bigg Boss 15: शो में राखी सावंत (Rakhi Sawant) के पति रितेश (Ritesh) के आ जाने के बाद से शो काफी दिलचस्प हो गया हैं। बता दें कि उनके पति बिग बॉस के दो सीजन से एक रहस्य बने हुए थे। आखिरकार इस बार राखी ने अपने पति को सबके सामने लाकर होश उडा दिए हैं। पिछले साल राखी ने राहुल वैद्य में कहा था कि उनकी शादी रितेश नाम के एक व्यक्ति से हुई है लेकिन चीजें सुचारू नहीं हैं। उसने खुलासा किया कि रितेश ने उनकी शादी को स्वीकार करने से इनकार कर दिया और वर्षों से उससे नहीं मिला। अब, बिग बॉस 15 में, रितेश ने सार्वजनिक रूप से प्रदर्शन किया और रियलिटी शो में वाइल्ड कार्ड प्रतियोगी के रूप में शामिल हुए।

RBI Monetary Policy: Home Loan, Car Loan और सस्‍ता होने के आसार नहीं, रेपो रेट में नहीं हुआ कोई बदलाव

RBI Monetary Policy: देश मे Omicron के बढ़ते मामलों के बीच RBI की तरफ से नीतिगत बदलाव नहीं किए गए हैं। बुधवार को जारी Monetary Policy के बाद मीडिया से बात करते हुए RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि मार्जिनल स्टैंडिंग फैसिलिटी(MSF) रेट और बैंक रेट बिना किसी बदलाव के साथ 4.25% रहेगा। रेपो रेट बिना किसी बदलाव के साथ 4% रहेगा। रिवर्स रेपो रेट भी बिना किसी बदलाव के साथ 3.35% रहेगा।

Delhi Air Pollution: राहत की खबर, हवा ‘बहुत खराब’ श्रेणी से सुधर कर ‘खराब’हुई

Delhi Air Pollution: दिल्ली वालों के लिए एक राहत की खबर है। हालांकि देश के राजधानी की हवा अब भी 'खराब' है। लेकिन पहले की तरह 'बहुत खराब' नहीं है यानी बुधवार को दिल्ली की वायु गुणवत्ता ‘बहुत खराब’ श्रेणी से ‘खराब’ की हो गई है।

कौन हैं Damodar Mauzo? जिन्हें मिला है ज्ञानपीठ पुरस्कार

Konkani के साहित्यकार Damodar Mauzo को वर्ष 2022 के लिए प्रतिष्ठित Jnanpith award प्रदान किया गया है। भारतीय ज्ञानपीठ ने मंगलवार को बताया, "ज्ञानपीठ पुरस्कार चयन समिति ने वर्ष 2021 – 2022 के लिए ज्ञानपीठ पुरस्कार की घोषणा कर दी है।"