होम देश दिल्ली में बिगड़ी वायु की गुणवत्ता, AQI 179 के पार

दिल्ली में बिगड़ी वायु की गुणवत्ता, AQI 179 के पार


केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के आंकड़ों के मुताबिक पिछले एक हफ्ते में दिल्ली की वायु की गुणवत्ता में गिरावट आई है। हर साल की तरह इस साल भी पंजाब और हरियाणा के कुछ हिस्सों में पराली जलाना शुरू हो गया है, नासा द्वारा तैयार किए गए मैप में ये जगहें स्पॉट की गई है।

दिल्ली में सीपीसीबी के 37 निगरानी स्टेशनों के आंकड़ों के मुताबिक वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 12 अक्टूबर को 179 थी, जो कि मध्यम श्रेणी मानी जाती है। मध्यम एक्यूआई 101 से 200 के बीच है।

यूनिवर्सिटी स्पेस रिसर्च एसोसिएशन, नासा मार्शल स्पेस फ़्लाइट सेंटर, यूएसए में पृथ्वी विज्ञान के वरिष्ठ वैज्ञानिक पवन गुप्ता ने कहा कि पंजाब में शुरुआती आग आमतौर पर सितंबर की शुरुआत में अमृतसर जिले के पास शुरू होती है। हालांकि तिथि साल-दर-साल बदलती रहती है और मौसम सहित कई कारकों पर निर्भर करती है।

जानकारों का कहना है कि एक्यूआई 7 अक्टूबर से 125 को पार कर गया, उसके बाद से लगातार बढ़ रहा है। आखिरी दिन दिल्ली में ‘संतोषजनक’ वायु गुणवत्ता 4 अक्टूबर को थी, जब एक्यूआई 91 पर था। 20 सितंबर से 26 सितंबर तक AQI 100 से काफी नीचे था, जबकि पिछले 10 दिनों में स्थिति खराब हो गई।

वायु प्रदूषण के कारण इन दिनों फेफड़ों और हृदय रोग वाले लोगों में सांस लेने में कठिनाई हो सकती है। ऐसे में लोगों को बच कर रहने की जरूरत है ।

दिल्ली सरकार ने किए हैं ये उपाय

इससे निपटने के लिए दिल्ली सरकार ने रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ कैंपेन शुरू किया है, केजरीवाल ने 18 अक्टूबर से कैंपेन के शुरूआत की घोषणा की। उन्होंने हफ्ते में कम से कम एक दिन अपनी गाड़ी का इश्तेमाल नहीं करने और ग्रीन दिल्ली एप पर प्रदूषण फैलाने वालों की शिकायत करके वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने में मदद करने को कहा।

उन्होंने कहा कि दिल्ली में वायु प्रदूषण बढ़ने लगा है, आसपास के राज्यों की सरकारों ने अपने किसानों की मदद नहीं की इसलिए किसान पराली जलाने के लिए मजबूर हैं। दिल्ली में जब बाहर से पराली का प्रदूषण आने लगे तो कोशिश करें कि दिल्ली का प्रदूषण कम कर लें।

ये भी पढ़ें

Climate change : England को रक्षा के लिए करने होंगे उपाय, नहीं तो कुछ सालों में हो जाएगा तबाह

प्रकृति की रक्षा व प्रजातियों के नुकसान को रोकने के लिए अधिक निवेश की जरूरत है : UN

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Parag Agrawal के Twitter के CEO बनने पर Kumar Vishwas ने कहा- ‘हम हैं देसी हां, मगर हर देश में छाए हैं हम’

भारतीय मूल के Parag Agrawal को माइक्रो ब्लॉगिंग साइट Twitter का नया CEO बनाया गया है। यह भारत के लिए बेहद गर्व का विषय है। Parag Agrawal के Twitter का CEO बनने पर हिंदी के मशहूर कवि Kumar Vishwas ने भी खुशी जाहिर की है। एक वेबसाइट की न्‍यूज को शेयर करते हुए उन्‍होंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर ट्वीट किया, ‘हम हैं देसी हां, मगर हर देश में छाए हैं हम’। बता दें कि ये कुमार विश्वास की एक कविता की पंक्ति है और इसको उन्‍होंने कई मंचों से सुनाया है।

Corona के नए वेरियंट Omicron को देखते हुए Mumbai Police हुई अलर्ट

Corona के नए वैरियंट Omakron के खतरे को देखते हुए Mumbai Police अलर्ट पर है। उद्धव सरकार ने कोरोना के नए आक्रामक वेरियंट Omakron के आने के बाद से इससे बचने के लिए नए नियम-कानून लागू करना शुरू कर दिया है। सरकार का प्रयास है कि नये वैरियंट से होने वाले खतरे से देश और मुंबई दोनों को बचाया जा सके।

APN News Live Updates: राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू ने 12 सांसदों के निलंबन को रद्द करने के अनुरोध को किया खारिज

APN News Live Updates: सांसदों के निलंबन को लेकर राज्यसभा में विपक्षी सदस्यों की तरफ से आज जमकर हंगामा देखने को मिला। राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू ने 12 सांसदों के निलंबन को रद्द करने के अनुरोध को खारिज कर दिया है।

Rakesh tikait ने कहा- MSP और किसानों पर मुकदमा वापस किए बिना कोई किसान यहां से नहीं जाएगा

Rakesh tikait ने कहा है कि MSP और किसानों पर मुकदमा वापस किए बिना कोई किसान यहां से नहीं जाएगा। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि किसानों के घर वापसी की अफवाह फैलाई जा रही है। MSP और किसानों पर मुकदमा वापस किए बिना कोई किसान यहां से नहीं जाएगा। 4 दिसंबर को हमारी बैठक है।