Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और अंडर-19 टीम के कोच राहुल द्रविड़ के साथ 4 करोड़ की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है।  राहुल द्रविड़ ने बेंगलुरू की एक कंपनी के खिलाफ सदाशिव पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है।

द्रविड़ ने अपनी शिकायत में कहा कि कंपनी में उन्होंने 2014 में 20 करोड़ रुपये का निवेश किया था। केवल 16 करोड़ रुपये वापस किए हैं जबकि कंपनी 4 करोड़ रुपये नहीं लौटा रही है। कंपनी का नाम विक्रम इन्वेस्टमेंट बताया है। कंपनी पर 800 करोड़ निवेशकों के 300 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का आरोप है।

करोड़ों का यह फर्जीवाड़ा 3 मार्च को सामने आया जब निवेशक पीआर बालाजी ने कंपनी के खिलाफ 11.74 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी। इस घोटाले के संबंध में विक्रम इन्वेस्टमेंट के डायरेक्टर राघवेंद्र श्रीनाथ के साथ पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। जिसमें एक पूर्व खेल पत्रकार भी है।

सदाशिवनगर के पुलिस निरीक्षक नवीन ने कहा,‘द्रविड़ ने दो दिन पहले विक्रम इंवेस्टमेंट कंपनी के खिलाफ चार करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है। नवीन ने कहा,‘द्रविड़ को 16 करोड़ रुपए वापस मिल गये, लेकिन उन्हें अभी तक बाकी के चार करोड़ रुपए नहीं मिले। क्रिकेटर ने इस संबंध में सारे कागजात जमा कर दिये है।

शिकायत के मुताबिक, फर्म ने 40-50 फीसदी रिटर्न देने का वादा करके निवेशकों को लुभाया था। केवल राहुल द्रविड़ ही नहीं, ऐसी खबरें आ रही हैं कि कई बड़े दिग्गज जैए साइना नेहवाल और प्रकाश पादुकोण ने भी इस फर्म में निवेश किया हुआ है। हालांकि, शिकायत केवल द्रविड़ ने दर्ज कराई है।

प्रबंधकों में से एक सुतराम सुरेश, जो कि अभी न्यायिक हिरासत में है, पूर्व खेल पत्रकार थे। कहा जा रहा है कि कई खिलाड़ियों ने सुरेश के माध्यम बहुत ज्यादा फंड निवेश किया हुआ है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.