Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी कोरोना की बिगड़ती स्तिथी को लेकर लगातार सरकार को घेर रहे है। राहुल ने हाल में किए अपने ट्वीट में एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। राहुल ने अपने ट्वीट में मोदी सरकार को गरीब विरोधी सरकार बताया है। राहुल ने लिखा
“बीमारी के ‘बादल’ छाए हैं, लोग मुसीबत में हैं, बेनिफ़िट ले सकते हैं – आपदा को मुनाफ़े में बदल कर कमा रही है ग़रीब विरोधी सरकार।“

राहुल ने अपने ट्वीट के साथ अखबार की एक खबर शेयर की है। खबर लॉकडाउन के दौरान चलाई गई श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को लेकर है। उसमें बताया गया है कि श्रमिक ट्रेनों से भी सरकार ने जमकर कमाई की है। लॉकडाउन के दौरान चलाई गई श्रमिक ट्रेनों से सरकार ने 428 करोड़ रूपए कमाए हैं।

लॉकडाउन के दौरान अलग अलग राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके गृह राज्य तक पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार की ओर से श्रमिक ट्रेनों की शुरूआत की गई थी। कई राज्यों में प्रवासीयों से किराया लेने की बात सामने आई थी जबकी राज्य सरकारों ने खुद किराया वहन करने का दावा भी किया था।

वहीं राहुल गांधी के इस ट्वीट पर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने पलटवार करते हे लिखा, देश को लूटने वाले ही सब्सिडी को मुऩाफा बता सकते हैं। रेलवे ने राज्य सरकारों से ली गयी राशी से कई अधिक श्रमिक ट्रेनों को चलाने में लगाया। अब लोग पूछ रहे हैं कि सोनिया जी के टिकट के पैसे देने के वादे का क्या हुआ ?

 

इससे पहले भी 24 जुलाई को राहुल गांधी ने सरकार पर तंज कसते हुए अपने ट्वीट मे लिखा था, मैं कोविड-19 और अर्थव्यवस्ता के बारे में सचेत करता रहा, उनहोंने मेरी चेतावनी को नहीं सुना। नतीजा- देश पर आपदा। मैं चीन के बारे में भी बार बार सचेत कर रहा हूं। वे अब भी नहीं सुन रहे।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.