Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ‘संविधान बचाओ अभियान’ की शुरुआत की। इस दौरान दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में पीएम मोदी पर गरजते हुए राहुल गांधी बोले, “भारत में महिलाओं पर अत्याचार लगातार बढ़ते जा रहे हैं लेकिन मोदी जी चुप्पी साधे बैठे हैं। मोदी जी को सिर्फ मोदी जी में दिलचस्पी है और किसी मुद्दे में नहीं”। दलितों के मुद्दे पर पीएम मोदी को घेरते हुए राहुल बोले, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच दलित विरोधी है। गरीब, दलित और महिलाओं को सुरक्षित करने वाला संविधान आज खुद खतरे में है। पीएम मोदी के दिल में दलितों के लिए जगह नहीं है”।

कठुआ और उन्नाव रेप की घटनाओं को लेकर पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कांग्रेस अध्यक्ष बोले, कि एक समय सरकार का नारा था- बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ। लेकिन अब हिन्दुस्तान में नारा बदल गया है। अब लोग कह रहे हैं कि बीजेपी से बेटी को बचाओ।

इस दौरान सुप्रीम कोर्ट के जजों का मुद्दा उठाते हुए राहुल गांधी बोले, देश के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है, जब चार जज न्याय मांग रहे हैं। उन्होंने कहा, इस देश में दलितों, गरीबों, महिलाओं की रक्षा ये संविधान करता है और इस संविधान को अंबेडकर जी ने और कांग्रेस पार्टी ने लिखा और हिंदुस्तान को दिया। इसलिए कांग्रेस पार्टी भाजपा और आरएसएस को इस संविधान को नष्ट करने नहीं देगी। देश की जनता 2019 में अपने मन की बात कहेगी।

राहुल गांधी आगे बोले, कांग्रेस पार्टी देश के कमजोर और दलित तबके के लोगों के हक़ के लिए हमेशा खड़ी रहेगी और भाजपा से दलितों की रक्षा भी करेगी।

राफेल और नीरव मामले पर राहुल ने कहा, कि मोदी जवाब नहीं दे पाएंगे। यह कांग्रेस पार्टी का कर्तव्य है कि वह हर एक संस्थान और संविधान को बचाए रखे। भाजपा कांग्रेस पार्टी और उसकी विचारधारा की ताकत को देखेगी। उसने हमारी ताकत को देखना शुरू कर दिया है और ज्यादा ताकत उसे 2019 के चुनावों में देखने को मिलेगी।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.