साम्राज्यों के कब्रिस्तान में गोलीतंत्र की सत्ता बन गई है। पूरे अफगानिस्तान पर तालिबान ने कब्जा कर लिया है। साल 1990 से देश में बंदूकतंत्र की सरकार बनाने का ख्वाब देखने वाले तालिबान का सपना सच हुआ। जब भारत और पाकिस्तान अपनी आजादी का जश्न मना रहे थे उस वक्त पड़ोसी मुल्क अफगानिस्तन अपनी आजादी खो रहा था। देश अब तालिबान का गुलाम बन गया है।

गुलाम अफगानिस्तान से कई भयंकर तस्वीरें सामने आ रही हैं जिसे देखने के बाद साफ समझ में आ रहा है कि वहां की जनता किस कदर डरी हुई है।

यह तस्वीर अफगानिस्तान की राजधानी काबुल की है। लोग देश छोड़कर भाग रहे हैं। काबुल एयरपोर्ट पर अफगानी, विमान का इंतजार कर रहे हैं।

अफगानिस्तान में सत्ता हस्तांतरण के बाद अब शरिया कानून लागू हो गया है। यह कानून महिलाओं के अधिकार को पूरी तरह से खत्म कर देता है। वहां पर मॉडल्स की तस्वीरों को ढका जा रहा है।साथ ही महिलाओं को अकेले घर से निकलने पर पाबंदी लगा दी गई है।

अफगानिस्तान में महिला एंकरों को ऑफ एयर कर दिया गया है। उन्हें बुर्खा पहनने के लिए बोला गया है। अब वे पहले की तरह अकेले घूम नहीं सकती हैं। साथ ही पढ़ने लिखने पर पाबंदी होगी।

देश में बंदूकतंत्र के बाद वहां का भविष्य अब पूरी तरह से नर्क में चला गया है। कहते हैं बच्चें देश के आने वाले मुस्तकबिल होते हैं लेकिन अफगानिस्तान का मुस्तकबिल डर के साए में जीने को मजबूर है।

देश से लोकतंत्र खत्म होने के बाद हर नागरिक अब अफगानिस्तान छोड़कर वहां जाना चाहता है जहां उन्हें तालिबान का साया भी न छू..पाए यही कारण है कि विमान पकड़ने के लिए कई लोग उसके पहिए पर लटक गए। विमान ने जैसे ही उड़ान भरी तीन लोग गिर गए।

अफगानी जनता को देश छोड़ता हुए देख तालिबान ने उन्हें रोकने के लिए फायरिंग कर दी जिसमे दो अफगानी नागरिकों की जान चली गई है। घटना काबुल एयरपोर्ट पर हुई है। इससे पहले तालिबान ने देश न छोड़ने का फरमान भी दिया था।

यह अफगानिस्तान का राष्ट्रपति भवन है जिसका उद्घाटन साल 2015 में हुआ था। यहां पर पूर्व राष्ट्रपति अशरफ गनी बैठा करते थे लेकिन अब तालिबान की सेना इस मंदिर में मौज कर रही है।

इस तस्वीर को देख कर लग रहा है कि 3.8 करोड़ की आबादी वाला देश एयरपोर्ट पर उमड़ गया है। काबुल एयरपोर्ट पर अभी भारी भीड़ लगी हुई है।

अफगानिस्तान में तालिबान की सत्ता बनते ही लोगों के म्यूजिक सुनने पर पाबंदी लगा दी गई है। तालिबान के आतंकी लोगों की गाड़ियां रोक कर चेकिंग कर रहें हैं।

क्या अब अफगानिस्तान की तस्वीर ऐसी होगी…?

यह भी पढ़ें:

अफगानिस्तान: काबुल की तरफ बढ़ रहा है तालिबान, दो बड़े शहरों पर कब्जा, 2001 जैसी स्थिती

पाकिस्तान और अफगानिस्तान में बढ़ रहा है तनाव, अफगानी राजदूत की बेटी को अगवा कर की मारपीट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here