Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

ट्वीटर पर अपने फनलाइनर के लिए मशहूर विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग और कीवी बैट्समैन रॉस टेलर के बीच ट्वीटर पर चल रही जुबानी जंग अब अगले लेवल पर पहुंच गई है। दरअसल इस जंग को सरकार की एक संस्था ने संज्ञान में ले लिया है और ट्वीटर पर ही दोनों खिलाड़ियों को जवाब दिया है।

इससे पहले आप मामला कुछ गंभीर समझें तो बता दूं कि न्यूजीलैंड और भारत के बीच चल रही सीमित ओवरों के मैचों के सीरीज के बीच सहवाग और टेलर की भी मजाकिया अंदाज में ट्वीटर पर भी जंग चल रही है। राजकोट में न्यूजीलैंड टीम की जीत के बाद अच्छा मौका देखते हुए रॉस टेलर ने एक एक दर्जी की दुकान के बाहर की तस्वीर डाली और सहवाग को टैग करते हुए लिखा कि  ‘राजकोट में मैच के बाद दर्जी की दुकान बंद, अगली सिलाई त्रिवेंद्रम में होगी…जरूर आना।’

दरअसल यह सहवाग के उस ट्वीट का जवाब था, जिसमें सहवाग ने वन डे सीरीज के दौरान लिखा था कि  ‘अच्छा खेले रॉस टेलर ‘दरजी जी’, दिवाली ऑर्डर के दबाव के बीच आपका प्रदर्शन अच्छा रहा।’

टेलर के हिंदी में दिए गए इस जवाब के बाद सहवाग सहित कई लोग अचंभित नजर आए। सहवाग ने लिखा कि आपकी हिंदी से काफी प्रसन्न हुआ। इसके बाद सहवाग ने आधार प्राधिकरण (यूआईडीएआई) को टैग करते हुए पूछा कि क्या इतनी अच्छी हिंदी बोलने के लिए रॉस आधार के लिए योग्य हैं?

इसके बाद जो हुआ उसकी उम्मीद तो किसी को भी नहीं थी। इसके बाद यूआईडीएआई ने सहवाग को जवाब देते हुए कहा कि भारत का नागरिक होने के लिए भारतीय भाषा जानना या बोलना कोई मुद्दा नहीं है। बल्कि आपको इसके लिए यहां का नागरिक होना अनिवार्य है। इसके बाद यूआईडीएआई ने आधार प्राप्त करने की योग्यता की भी जानकारी दी।

इस पर सहवाग ने फिर से ट्वीट करते हुए लिखा कि कोई कितना भी मजाक कर ले, लेकिन सरकार के पास ही आखिरी हंसी होती है। आपको बता दें कि न्‍यूजीलैंड के बल्‍लेबाज रॉस टेलर न केवल हिंदी भाषा को पसंद करते हैं बल्कि वे इसे अच्‍छी तरह से लिख और बोल भी लेते हैं।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.