होम देश शिवसेना ने मुखपत्र सामना में Javed Akhtar को दी नसीहत, Ram Kadam...

शिवसेना ने मुखपत्र सामना में Javed Akhtar को दी नसीहत, Ram Kadam ने उद्धव पर बोला हमला

शिवसेना (Shivsena) ने अपने मुखपत्र सामना में जावेद अख्तर (Javed Akhtar) को नसीहत दी है। पार्टी ने कहा कि, लगातार बहुसंख्यक हिंदुओं को दबाया न जाए।

राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (RSS) और विश्व हिंदू परिषद की तुलना तालिबान (Taliban) से करने पर जावेद अख्तर (Javed Akhtar) चारों तरफ से घिर गए हैं। भारतीय जनता पार्टी (BJP) तो अख्तर पर हमलावर है ही अब शिवसेना ने भी जावेद अख्तर को जवाब दिया है।

आरएसएस और विहिप की तुलना तालिबान से करना सही नहीं

शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में लिखा है कि, आरएसएस और विहिप की तुलना तालिबान से करना कतई सही नहीं है और लगातार बहुसंख्यक हिंदुओं को दबाया न जाए। शिवसेना ने मुखपत्र में ही सही लेकिन साफ साफ शब्दों में जावेद अख्तर को समझा दिया है।

सामना में लिखा है, ‘जावेद अख्तर अपने मुखर बयानों के लिए जाने जाते हैं। देश में जब-जब धर्मांध, राष्ट्रद्रोही विकृतियां उफान पर आईं, तब जावेद अख्तर ने उन धर्मांध लोगों के मुखौटे फाड़े हैं। कट्टरपंथियों की परवाह किए बगैर उन्होंने ‘वंदे मातरम’ गाया है। फिर भी संघ की तालिबान से की गई तुलना हमें स्वीकार नहीं है।’

शिवसेना ने लिखा, ‘अफगानिस्तान का तालिबानी शासन मतलब समाज और मानव जाति के लिए सबसे बड़ा खतरा है। पाकिस्तान, चीन जैसे राष्ट्रों ने उसका साथ दिया है। हिंदुस्थान की मानसिकता वैसी नहीं दिख रही है। हम हर तरह से जबरदस्त सहिष्णु हैं। लोकतंत्र के बुरखे की आड़ में कुछ लोग तानाशाही लाने का प्रयास कर रहे होंगे फिर भी उनकी सीमा है। इसलिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की तुलना तालिबान से करना उचित नहीं है।’

बर्बर तालिबानियों ने अफगानिस्तान में जो रक्तपात, हिंसाचार किया है

‘आपकी विचारधारा धर्मनिरपेक्ष है इसलिए ‘हिंदू राष्ट्र’ की संकल्पना का समर्थन करने वाले तालिबानी मानसिकता वाले हैं, ऐसा कैसे कहा जा सकता है? बर्बर तालिबानियों ने अफगानिस्तान में जो रक्तपात, हिंसाचार किया है। जो मानव जाति का पतन कर रहे हैं, वो दिल दहलाने वाला है। तालिबान के डर से लाखों लोगों ने देश छोड़ दिया है। महिलाओं पर जुल्म हो रहे हैं। अफगानिस्तान नर्क बन गया है। तालिबानियों को वहां सिर्फ शरीयत की ही सत्ता लानी है।

हमारे देश को हिंदू राष्ट्र बनाने का प्रयास करने वाले जो-जो लोग या संगठन हैं, उनकी हिंदू राष्ट्र निर्माण की अवधारणा सौम्य है।’ सामना में शिवसेना ने लिखा, ‘संघ या शिवसेना तालिबानी विचारों वाली होती तो इस देश में तीन तलाक के खिलाफ कानून नहीं बना होता। लाखों मुस्लिम महिलाओं को आजादी की किरण नहीं दिखी होती।’

राम कदम ने उद्धव पर बोला हमला

आगे लिखा है, ‘हिंदुस्थान में हिंदुत्ववादी विचार अति प्राचीन है। वजह ये है कि रामायण, महाभारत हिंदुत्व का आधार है। बाहरी हमलावरों ने हिंदू संस्कृति पर तलवार के दम पर हमला किया। अंग्रेजों के शासन में धर्मांतरण हुए। उन सभी के खिलाफ हिंदू समाज लड़ता रहा लेकिन वो कभी भी तालिबानी नहीं बना। दुनिया के हर राष्ट्र आज धर्म की बुनियाद पर खड़े हैं। चीन, श्रीलंका जैसे राष्ट्रों का अधिकृत धर्म बौद्ध, अमेरिका-यूरोपीय देश ईसाई तो शेष सभी राष्ट्र ‘इस्लामिक रिपब्लिक’ के रूप में अपने धर्म की शेखी बघारते हैं। परंतु विश्व पटल पर एक भी हिंदू राष्ट्र है क्या? हिंदुस्थान में बहुसंख्यक हिंदू होने के बावजूद भी ये राष्ट्र आज भी धर्म निरपेक्षता का झंडा लहराता हुआ खड़ा है। बहुसंख्यक हिंदुओं को लगातार दबाया न जाए, यही उनकी एक वाजिब अपेक्षा है। जावेद अख्तर हम जो कह रहे हैं, वो सही है न।’

सामना में यह लेख आने के बाद राजनीति भी गरमा गई है। बीजेपी नेता राम कदम ने ट्वीट कर शिवसेना पर हमला बोला है। राम कदम ने कहा कि, शिवसेना स्वीकार कर रही है कि जावेद अख्तर ने गलत बयान दिया है लेकिन फिर भी उन पर कार्रवाई नहीं की जा रही है।

राम कदम ने ट्वीट कर लिखा कि, “जिलेबी की तरह गोल गोल भाषा ? #शिवसेना स्वीकार कर रही है की #जावेदअख्तर का बयान गलत है। हमने शिकायत करके 24 घंटों बीत गये। उसके बावजूद भी। अब तक उन्हें गिरफ्तार क्यों नहीं किया ? आपको कारवाई करनेसे किसने रोका ? उनके घर के बाहर कब करोगे तुम्हारी भाषा में ” राडा ” ?”

यह भी पढ़ें:

Taliban से RSS की तुलना को लेकर घिरे Javed Akhtar, BJP नेता बोले-माफी मांगे

जावेद अख्तर को रियल दंगल गर्ल ने दिया करारा जवाब

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Rajasthan News: प्रिंसिपल ने सरारती छात्र को स्कूल से निकाला तो चला दी गोली, तलवार से भी कर चुका है हमला

Rajasthan News: एकलव्य ने गुरु दक्षिणा में अपने अंगूठ को गुरु द्रोणाचार्य को भेट कर दिया था। कहा जाता है कि भगवान के बाद गुरु आता है। माता-पिता तो जन्म देते हैं लेकिन गुरु जीवन जीना बताता है, उसे सुंदर बनाता है। इसलिए गुरु की हर बात पत्थर की लकीर होती है। पर तब क्या होगा जब गुरु की बात शिष्य को इनती बुरी लग जाए कि वह उसकी जान ही ले ले। इसी तरह की घटना राजस्थान (Rajasthan) से सामने आई है, जहां एक छात्र ने स्कूल की प्रिंसिपल को गोली मार दी। छात्र को प्रिंसिपल ने स्कूल से निकाल दिया था, जिसके बाद गुस्साए छात्र ने इनता बड़ा कदम उठाया।

Vicky Kaushal और Katrina Kaif अपनी शादी के लिए राजस्थान रवाना होने के लिए तैयार, देखें वीडियो

विक्की कौशल (Vicky Kaushal) और कैटरीना कैफ (Katrina Kaif) अपनी शादी को लेकर सुर्खियों में बने हुए हैं। मुंबई में उनकी प्री-वेडिंग सेलिब्रेशन जोरों पर है। बता दें कि विक्की और कैटरीना का परिवार 6 दिसंबर को राजस्थान के लिए रवाना होगा। लोगों ने उनकी कारों को देखा जो राजस्थान जानें के लिए तैयार हो रही थीं।

IND vs NZ: India ने New Zealand को 372 रनों से हराकर टेस्ट सीरीज 1-0 से अपने नाम किया, घर पर भारत ने लागातार...

India और New Zealand के बीच खेले गए दूसरे टेस्ट में भारतीय टीम ने सबसे बड़ी जीत हासिल की। मुम्बई टेस्ट में भारत ने न्यूज़ीलैंड को 372 रनों से हराकर सीरीज को 1-0 से जीत लिया। दो मैचों की टेस्ट सीरीज में भारत ने 1-0 से सीरीज पर कब्जा जमाया। टेस्ट सीरीज से पहले भारत ने रोहित शर्मा की कप्तानी में टी20 सीरीज पर भी कब्जा जमाया था।

Mahaparinirvan Diwas 2021: पुण्यतिथि पर राष्ट्र ने बाबा साहेब अंबेडकर को किया याद, राष्ट्रपति कोविंद ने अर्पित की श्रद्धांजलि

Mahaparinirvan Diwas 2021:भारत के संविधान निर्माता Babasaheb Dr B.R. Ambedkar की पुण्‍यतिथि पर आज पूरा देश उन्हें याद कर रहा है। बाबा साहेब अम्बेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस पर आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उन्‍हें सादर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उन्हें याद किया है। उन्‍होंने सोशल मीडिया ट्विटर पर ट्वीट किया, ”भारत रत्न बाबासाहेब डॉ. भीमराव अम्बेडकर को उनके महापरिनिर्वाण दिवस पर सादर श्रद्धांजलि।”