Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

स्पेन से अलग होने के लिए सरकार के विरोध में कल कैटालोनिया में जनमत संग्रह कराया गया जिसके बाद स्पेन में स्पेनी पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प हो गई। रविवार को आयोजित इस जनमत संग्रह को रोकने के लिए लोगों पर लाठियां बरसाईं गई, जिसमें 337 लोग जख्मी हो गए।

जबकि जनमत संग्रह की मांग कर रहे कैटलन प्रदर्शनकारियों ने पुलिस हिंसा का जवाब फूलों से दिया। लाठी बरसा रहे पुलिस वालों को फूल ऑफर किए गए। पुलिस की गाड़ियों को भी फूलों से सजाया। फूल देना कैटलन कल्चर भी है।

बता दें कि जनमत संग्रह के बाद कैटेलोनिया प्रशासन ने घोषणा की कि जनमत संग्रह में भाग लेने वाले 90 फीसदी लोग स्पेन से अलग होना चाहते हैं। वहीं स्पेन का कहना है कि देश की संवैधानिक अदालत ने इस जनमत संग्रह को अवैध करार दिया है। वहीं इस जनमत संग्रह में पड़े कुल 1,020144 वोट आजादी के पक्ष में पड़े जबकि 176,566 वोट आजादी के विरोध में।

स्पेन के प्रधानमंत्री मारिआनो राजॉय की माने तो जनमत संग्रह हुआ ही नहीं है और कैटालोनिया के अधिकतर लोग स्‍पेन से अलग नहीं होना चाहते। वहीं दूसरी तरफ स्‍पेन से अलग देश की मांग कर रहे कैटेलोनिया के शीर्ष नेता कार्ल्स पुईग्देमोंत ने दावा किया है कि अब कैटालोनिया को स्‍वतंत्र देश के तौर पर अस्तित्‍व में आने का अधिकार मिल गया है।  वहीं कैटालोनिया के नेता कार्ल्स पुइगडेमोंट की सरकार ने दावा किया कि 90 फीसदी मतदाताओं ने प्रतिबंधित जनमत संग्रह में आजादी का समर्थन किया है। इसके साथ ही पुइगडेमोंट ने कहा कि क्षेत्र ने अब स्पेन से अलग होने का अधिकार हासिल कर लिया है।

नेता कार्ल्स पुइगडेमोंट ने कहा कि यह हड़ताल अधिकारों और आजादी के गंभीर हनन की वजह से की गई है। उन्होंने लोगों से कैटालोनिया में सड़कों पर उतरने को कहा। यह क्षेत्र स्पेन के विकास का प्रमुख केंद्र है।

स्पेन में ऐसे हालात को देखते हुए स्पेन सरकार ने कोरियर सेवा भी बंद कर दी है। इसकी वजह से 50 लाख कोरियर अटके हुए है। 90 लाख मतपत्र व 15 लाख लिफाफे जब्त किए। बीते दिनों में 140 वेबसाइट भी बंद की गई है। कई इलाकों में इंटरनेट सेवाएं रोक दी गईं है। पोलिंग स्टेशन एप को भी बैन कर दिया है।  वोटिंग के लिए 53 लाख से अधिक लोगों ने पंजीकरण कराया था। करीब 2,315 पोलिंग बूथ बनाए गए थे।

हालांकि इन सबके बीच अच्छी बात यहाँ है कि कैटालोनिया के लोग अहिंसा के रस्ते पर चल रहे हैं। लोगों का कहना है कि जनमत संग्रह के जरिए हम सिर्फ अपनी राय बताना चाहते हैं।  सभी लोग स्पेन से अलग भी नहीं होना चाहते है। हम लोकतांत्रिक लोग हैं। अगर पुलिस इसी तरह हिंसा जारी रखेगी तो हम पीछे नहीं हटेंगे।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.