होम ज़रा हटके स्वास्थ्य American society of Nephrology ने कहा- कोरोना मरीजों के गुर्दें 35% तक...

American society of Nephrology ने कहा- कोरोना मरीजों के गुर्दें 35% तक हो जाते हैं खराब

American society of Nephrology ने कहा कि कोरोना मरीजों के गुर्दें 35% तक खराब हो जाते हैं। कोरोना महामारी की शुरुआत से डॉक्टरों ने पाया है कि जो लोग Covid-19 से इन्फेक्टेड हुए वे अक्सर गुर्दे की समस्याओं से भी जूझते हैं। जबकि आम तौर पर इसके लक्षणों में यह सामने आता है कि यह फेफड़ों (Lungs) को कमजोर कर देता है।

Corona महामारी के शुरुआती लक्षण

एक अध्ययन से पता चला है कि रोगियों के प्रारंभिक संक्रमण से उबरने के बाद गुर्दे की समस्याएं महीनों तक रह सकती हैं और कुछ रोगियों में गुर्दे की कार्यप्रणाली प्रभावित होती है। American society of Nephrology में बुधवार को प्रकाशित अध्ययन में पाया गया कि शुरू में जितने लोग Covid-19 मरीज थे, उनके गुर्दे की क्षति की संभावना अधिक थी। लेकिन कम संक्रमण वाले लोग भी इसकी चपेट आए।

येल में एक नेफ्रोलॉजिस्ट और मेडिसिन के एसोसिएट Professor Dr. Perry Wilson ने कहा कि गुर्दे शरीर में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं, रक्त से विषाक्त पदार्थों और अतिरिक्त तरल पदार्थ को साफ करते हैं। एक स्वस्थ रक्तचाप बनाए रखने में भी मदद करते हैं और इलेक्ट्रोलाइट्स और अन्य महत्वपूर्ण पदार्थों का संतुलन बनाए रखते हैं। जब गुर्दे ठीक से काम नहीं करते हैं, तो तरल पदार्थ जमा हो जाते हैं, जिससे सूजन, उच्च रक्तचाप, कमजोर हड्डियां और अन्य समस्याएं होती हैं।

वीए सेंट लुइस हेल्थ केयर अध्ययन के अनुसार

वीए सेंट लुइस हेल्थ केयर सिस्टम और अध्ययन के वरिष्ठ लेखक और अनुसंधान, विकास सेवा के प्रमुख डॉ. ज़ियाद अल-एली ने कहा कि कोरोना से हृदय, फेफड़े, तंत्रिका तंत्र और प्रतिरक्षा प्रणाली क्षीण हो सकती है। गुर्दा रोग, डायलिसिस या अंग प्रत्यारोपण आवश्यक हो सकता है और यह स्थिति घातक हो सकती है।

संक्रमित होने के एक से छह महीने के बीच गैर-कोविड रोगियों की तुलना में कोरोना की चपेट में आए लोगों में गुर्दे की क्षति होने की संभावना लगभग 35% अधिक थी। प्रोफेसर एली ने कहा कि जो लोग कोविड के पहले 30 दिनों में जीवित रहे, उन्हें kidney की बीमारी होने का खतरा है।

ये भी पढ़ें :

देश में पिछले 24 घंटे में 37 हजार से ज्यादा कोरोना के नए मामले आए सामने, केरल में 24 हजार से ज्यादा केस

आगामी त्योहारों को देखते हुए केंद्र सरकार ने राज्यों को चेताया, देशभर में 30 सितंबर तक लागू रहेंगे कोरोना के नियम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

5th International Ambedkar Conclave 2021: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा- बाबासाहब के लिए भारतीयता सर्वोपरि थी

5th International Ambedkar Conclave 2021: दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित 5th इंटरनेशनल अंबेडकर कॉन्क्लेव को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द (Ram Nath Kovind) ने कहा कि बाबासाहब के लिए भारतीयता सर्वोपरि थी। उन्होंने कहा कि सामाजिक तौर पर पिछड़े लोगों में जानकारी अभाव रहा है। उन लोगों तक जानकारी पहुंचना बेहद जरूरी है।

संयुक्त किसान मोर्चा की 4 दिसंबर को बैठक, Rakesh Tikait ने कहा- सरकार टेबल पर आई तो हम किसानों की शहादत से जुड़े पूरे...

राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) सरकार के सामने न्यूनतम समर्थन मूल्य (Minimum Support Prices) के लिए अड़ गए हैं। टिकैत ने कहा है कि 700 किसान तीनों कृषि कानून (3 Farm Law) के विरोध में शहीद हुए हैं ऐसे कैसे बॉर्डर खाली कर दें। कानून वापसी के बाद किसान संगठन अब एमएसपी (MSP) गारंटी की मांग कर रहे हैं। सरकार ने भी साफ कह दिया है कि गारंटी देना मुश्किल है। MSP पर गारंटी की मांग के बीच और कानून वापसी के बाद किसानों का क्या रूख होगा इसपर किसान संगठनों ने अपनी राय साफ नहीं की है। टिकैत ने एक बार फिर मृत किसानों के लिए आवाज बुलंद की है। टिकैत ने कहा कि सरकार टेबल पर आएगी तो हम उनके सामने किसानों की शहादत से जुड़े तथ्य को सामने रखेंगे।

Chhattisgarh News:’Omicron’ को लेकर स्वास्थ्य मंत्री ने की तैयारियों की समीक्षा, व्यवस्था में सुधार के दिए निर्देश

Chhattisgarh News: स्वास्थ्य मंत्री T. S. Singhdeo ने कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) के खतरे को देखते हुए इसकी तैयारियों को लेकर समीक्षा की है। टी.एस. सिंहदेव ने दूसरे देशों की यात्रा कर छत्तीसगढ़ पहुंचने वालों की स्क्रीनिंग और आवश्यक जांच की पुख्ता व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं और प्रतिदिन सैंपल जांच की संख्या बढ़ाने को कहा है। सिंहदेव ने कोरोना टीकाकरण में तेजी लाने और सभी अस्पतालों में उपकरणों और मशीनों की चौक-चौबंद व्यवस्था रखने को कहा है।

Shivraj सरकार की मंत्री ने कहा, ताबीज से ठीक होगा Corona

मध्य प्रदश की Shivraj सरकार की पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर को बयानवीर माना जाता है। बयानों कारण हमेशा चर्चा में रहने वाली उषा ठाकुर ने अपने ताजा बयान में कहा है कि टंट्‍या भील के ताबीज लोग हर तरह की बीमारियों से ठीक रहते हैं।