होम विदेश अफगानिस्‍तान की Taliban सरकार ने लड़कों के लिए खोले स्‍कूल, लड़कियों के...

अफगानिस्‍तान की Taliban सरकार ने लड़कों के लिए खोले स्‍कूल, लड़कियों के स्‍कूल कब खुलेंगे…

अफगानिस्‍तान की Taliban सरकार ने लड़कों के लिए स्‍कूल को फिर से खोले जाने की अनुमति दे दी है।Taliban की सत्ता में वापसी के बाद काबुल और पूरे Afghanistan में स्कूलों के महीने भर बंद रहने के बाद, अब तालिबान ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर अधिकारियों को शनिवार से मदरसों, निजी और सार्वजनिक स्कूलों और देश के अन्य शैक्षणिक संस्थानों को फिर से Middle और High School के लड़कों के लिए खोलने का आदेश दिया है। लेकिन इस आदेश में लड़कियों का जिक्र नहीं है।

बयान में कहा गया कि सभी पुरुष छात्र और पुरुष शिक्षक अपने स्कूलों में उपस्थित हों। हालांकि बयान में स्पष्ट रूप से हाई स्कूल की लड़कियों के लिए स्कूल में आने के‍ लिए नहीं कहा गया। अफगानिस्तान में कुछ प्राथमिक (Primary) स्कूल पहले ही खुल चुके हैं और कक्षा 6 तक की लड़कियां स्कूल जा रही हं। महिला छात्राएं भी विश्वविद्यालय में पढ़ने जा रही हैं।

शिक्षा के लिए किसी पर कोई पाबंदी नहीं : बिलाल करीमी

तालिबान के प्रवक्ता बिलाल करीमी (Bilal Karimi) ने द वाशिंगटन पोस्ट को बताया कि उन्हें शिक्षा मंत्रालय के लड़कों के लिए स्कूल खोलने लेकिन लड़कियों के लिए स्कूल बंद रखने के किसी भी फैसले के बारे में पता नहीं है। करीमी ने कहा, “हम लड़कों और लड़कियों की शिक्षा के प्रति प्रतिबद्ध हैं।”

लड़के-लड़कियां एक साथ नहीं पढ़ सकते : हक्कानी

कार्यवाहक उच्च शिक्षा मंत्री अब्दुल बकी हक्कानी ने 12 सितंबर को घोषणा की थी कि महिलाओं को विश्वविद्यालयों और स्नातकोत्तर कार्यक्रमों में अध्ययन करने की अनुमति दी जाएगी। हालांकि उन्होंने कहा था, ” हम महिला और पुरुष छात्रों को एक कक्षा में पढ़ने की अनुमति नहीं देंगे। सहशिक्षा शरिया कानून के खिलाफ है।”

Malala Yousafzai ने लड़कियों की शिक्षा की मांग की

लड़कियों के लिए माध्यमिक शिक्षा के स्‍कूल न खोलने पर नोबेल शांति पुरस्कार विजेता मलाला यूसुफजई ने Tweet किया, ” यह शर्मनाक है और बिल्कुल भी नया नहीं है। अतीत में, तालिबान ने लड़कियों की शिक्षा पर “अस्थायी” प्रतिबंध लगाया जो पांच साल तक चला। वे हमारे संकल्प की परीक्षा ले रहे हैं। हम मांग करते हैं कि नेता अफगान लड़कियों के स्कूल जाने के अधिकार के लिए खड़े हों। ”

तालिबान Virtue और Vice मंत्रालय को वापस ला रहा है

शुक्रवार को तालिबान ने महिला मामलों के मंत्रालय के Signs को Virtue और Vice मंत्रालय के Signs के साथ बदल दिया। सोशल मीडिया में आई तस्वीरों में दिखा कि तालिबान के कार्यकर्ताओं ने महिला मंत्रालय के हस्ताक्षर को मिटा रहे हैं।

1996 से 2001 तक तालिबान के अंतिम शासन के दौरान लड़कियों के लिए स्कूलों को बंद कर दिया गया था और महिलाओं के काम पर जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। सार्वजनिक स्थानों पर बेहिसाब चलने वाली कई महिलाओं को पिटाई का सामना करना पड़ा। पुलिस ने शरिया कानून की सख्त व्याख्या को लागू किया, जिसमें एक रूढ़िवादी ड्रेस कोड और नैतिक उल्लंघन के लिए सार्वजनिक फांसी का दंड शामिल है।

ये भी पढ़ें- अफगानिस्तान में काबुल एयरपोर्ट के पास फिर हुआ एक और धमाका, इलाके में अफरा-तफरी का माहौल

काबुल हमले के लिए US ने मांगी माफी, इसे बहुत बड़ी गलती मानी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

T20 World Cup : Scotland ने किया बड़ा उलटफेर, बांग्लादेश को 6 रनों से हराकर सबको चौंकाया

T20 World Cup के दूसरे मैच में ही बड़ा उलटफेर हो गया। इस मैच में Scotland ने Bangladesh को 6 रनों से हराकर मुकाबले को जीत लिया। स्कॉटलैंड की टीम ने बांग्लादेश को हराकर सभी टीमों को सतर्क कर दिया। स्कॉटलैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 9 विकेट के नुकसान पर 140 रन बनाए। जवाब में बांग्लादेश की टीम 7 विकेट खोकर 134 रन ही बना सकी। क्रिस ग्रीव्स को हरफनमौला खेल (45 एवं 2/19) के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया।

Priyanka Gandhi Vadra होंगी UP Congress चुनाव अभियान का चेहरा : P L Punia

प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) उत्तर प्रदेश (UP) में कांग्रेस के चुनाव अभियान का चेहरा होंगी, ये बात कांग्रेस नेता पीएल पुनिया (PL Punia) ने आज कहा। पुनिया को अगले साल यूपी चुनावों के लिए कांग्रेस की प्रमुख 20-सदस्यीय चुनाव प्रचार समिति के प्रमुख के रूप में नामित किया गया है,

17 अक्टूबर: देश के कई हिस्सों में भारी बारिश, पढ़ें दिन भर की तमाम बड़ी खबरें

Kerala में भारी बारिश से मची तबाही के कारण कम से कम पांच लोगों की मौत हो गई है। जानकारी के मुताबिक भारी बारिश की वजह से इडुक्की और कोट्टायम जिलों में कई जगहों पर भूस्खलन हुआ, जिसके कारण यह हादसा हुए। एनडीआरएफ का राहत दल तुफान और बारिश में फंसे लोगों को बचाने में दिन-रात लगी हुई है।

सिंघु बॉर्डर में हुई दलित व्‍यक्ति की मौत पर बसपा प्रमुख Mayawati ने सीबीआई जांच की मांग की, कहा – मामला गंभीर है

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा प्रमुख Mayawati ने सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर कथित तौर पर निहंग सिख द्वारा की गई एक दलित व्यक्ति मौत की पर सीबीआई जांच की मांग की है।