होम देश Tata Group के Diwali ऐड पर मचा बवाल, #NoBindiNoBusiness हुआ ट्रेंड, जानें...

Tata Group के Diwali ऐड पर मचा बवाल, #NoBindiNoBusiness हुआ ट्रेंड, जानें बिंदी का महत्व

दीवाली (Diwali) आने वाली है। देशभर में 4 नवंबर को दीवाली मनाई जाएगी। यह हिंदुओं का सबसे बड़ा त्योहार है। इस त्योहार को ध्यान में रखते हुए बड़े-बड़े ब्रांड कपड़ो, जूलरी अन्य परिधानों का प्रचार कर रहे हैं। सड़क पर जहां नजर घुमाओ वहां पर ऐड के होर्डिंग दिख जाएंगे। इन तस्वीरों में प्रचार तो दीवाली के लिए किया जा रहा है लेकिन किसी भी तस्वीर में हिंदू त्योहार की झलक नहीं दिख रही है।

कौन है टारगेट ऑडियंस?

टाटा ग्रुप द्वारा दिखाए गए ऐड को लेकर सोशल मीडिया पर विवाद छिड़ गया है। सोशल मीडिया पर #NoBindiNoBusiness #SaveHindus ट्रेंड करने लगा है। दरअसल टाटा ग्रुप के CLiQ Luxury द्वारा दिखाए गए ऐड में दो मॉडल दिख रही हैं, दोनों ही मॉडल हरे रंग के सूट सलवार में दिख रही हैं। टाटा प्रचार तो दीवाली के लिए कर रहा है लेकिन इस तस्वीर को देखकर अंदाजा कतई नहीं लगाया जा सकता है कि इनकी टारगेट ऑडियंस कौन है।

सोशल मीडिया यूजर कह रहे हैं कि दीवाली प्रकाश का त्योहार है। इस तस्वीर में मॉडलों को इस तरह बैठाया गया है कि मानो वो शोक मना रहीं हैं। उनके माथे पर एक बिंदी तक नहीं है। बिना बिंदी के यह त्योहार अधूरा लगता है। टाटा द्वारा प्रदर्शित किए गए इस ऐड को लेकर विवाद हो रहा है। लोग कह रहे हैं कि हिंदुओं के लिए प्रचार किया जा रहा है तो उसमें हिंदुओं की झलक क्यों नहीं दिख रही है।

बिंदी के बिना श्रृंगार रहता है अधूरा

जिस बिंदी को लेकर सोशल मीडिया पर बवाल मचा हुआ है उसे हिंदू धर्म में सिर्फ सुंदरता के लिए ही नहीं लगाते हैं बल्कि इसके कई वैज्ञानिक कारण भी हैं। हिंदू धर्म में बिंदी के बिना किसी इभी महिला का श्रृंगार अधूरा लगता है। बिंदी समय के साथ मॉर्डन जरुर हो गई है लेकिन उसका स्थान वहीं है। वक्त के साथ बिंदी का रंग रुप बदला है पर उसका स्थान नहीं बदला है।

जानें बिंदी का महत्व

तिलक और बिंदी हमेशा ललाट यानी मस्तक के बीचों-बीच लगाई जाती है।  इस स्थान पर आज्ञा चक्र होता है। 

जब इस स्थान पर तिलक लगाते हैं तो वह जागृत हो जाता है। 

आज्ञा चक्र को ही विचारों की उत्पत्ति का केंद्र माना जाता है। 

यहीं से क्रियात्मक चेतना का संचार समूचे मस्तिष्क में होता है। 

तिलक लगाने से एकाग्रता भी बढ़ती है और पॉजिटिव विचार मन में आते हैं।

मेडिकल साइंस के अनुसार, माथे के बीच में पीनियल ग्रन्थि होती है। जब यहां तिलक या बिंदी लगाई जाती है तोये ग्रंथि तेजी से काम करने लगती है।

चंदन का तिलक लगाने से दिमाग में शीतलता बनी रहती है और मन की एकाग्रता बढ़ती है।

यह भी पढें:

बिंदी पर बवाल – भारतीय एक्टिविस्ट के ट्वीट से पाकिस्तानी बौखलाए

दूर्गापूजा विशेष- सोलह शृगांर करने से बढ़ती है पति की आयु

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Bigg Boss 15: Abhijit Bichukale ने कहा Rakhi Sawant के पति किराए पर हैं, भड़की एक्ट्रेस ने खींचे बाल

Bigg Boss 15: शो में राखी सावंत (Rakhi Sawant) के पति रितेश (Ritesh) के आ जाने के बाद से शो काफी दिलचस्प हो गया हैं। बता दें कि उनके पति बिग बॉस के दो सीजन से एक रहस्य बने हुए थे। आखिरकार इस बार राखी ने अपने पति को सबके सामने लाकर होश उडा दिए हैं। पिछले साल राखी ने राहुल वैद्य में कहा था कि उनकी शादी रितेश नाम के एक व्यक्ति से हुई है लेकिन चीजें सुचारू नहीं हैं। उसने खुलासा किया कि रितेश ने उनकी शादी को स्वीकार करने से इनकार कर दिया और वर्षों से उससे नहीं मिला। अब, बिग बॉस 15 में, रितेश ने सार्वजनिक रूप से प्रदर्शन किया और रियलिटी शो में वाइल्ड कार्ड प्रतियोगी के रूप में शामिल हुए।

RBI Monetary Policy: Home Loan, Car Loan और सस्‍ता होने के आसार नहीं, रेपो रेट में नहीं हुआ कोई बदलाव

RBI Monetary Policy: देश मे Omicron के बढ़ते मामलों के बीच RBI की तरफ से नीतिगत बदलाव नहीं किए गए हैं। बुधवार को जारी Monetary Policy के बाद मीडिया से बात करते हुए RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि मार्जिनल स्टैंडिंग फैसिलिटी(MSF) रेट और बैंक रेट बिना किसी बदलाव के साथ 4.25% रहेगा। रेपो रेट बिना किसी बदलाव के साथ 4% रहेगा। रिवर्स रेपो रेट भी बिना किसी बदलाव के साथ 3.35% रहेगा।

Delhi Air Pollution: राहत की खबर, हवा ‘बहुत खराब’ श्रेणी से सुधर कर ‘खराब’हुई

Delhi Air Pollution: दिल्ली वालों के लिए एक राहत की खबर है। हालांकि देश के राजधानी की हवा अब भी 'खराब' है। लेकिन पहले की तरह 'बहुत खराब' नहीं है यानी बुधवार को दिल्ली की वायु गुणवत्ता ‘बहुत खराब’ श्रेणी से ‘खराब’ की हो गई है।

कौन हैं Damodar Mauzo? जिन्हें मिला है ज्ञानपीठ पुरस्कार

Konkani के साहित्यकार Damodar Mauzo को वर्ष 2022 के लिए प्रतिष्ठित Jnanpith award प्रदान किया गया है। भारतीय ज्ञानपीठ ने मंगलवार को बताया, "ज्ञानपीठ पुरस्कार चयन समिति ने वर्ष 2021 – 2022 के लिए ज्ञानपीठ पुरस्कार की घोषणा कर दी है।"