कहते हैं रिकॉर्ड तो टूटने के लिए ही बनते हैं। टीम इंडिया ने ब्रिस्बेन में 70 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ इतिहास रच दिया है। भारतीय टीम ने ब्रिस्बेन में खेले गए चौथे टेस्ट मैंच में ऑस्ट्रेलिया को 3 विकेट से हरा दिया है।

विराट कोहली की गैरमौजुदगी और अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में टीम ने कमाल कर दिया है। सभी लोग अजिंक्य की वाहवाही कर रहे हैं। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस जीत से इतने प्रभावित हुए की, भारतीय क्रिकेट टीम को बधाई दी है। साथ ही भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी हैं।

भारत ने लगातार दूसरी बार ऑस्ट्रेलिया को उसके ही घर में हरा कर टेस्ट सीरीज को अपने नाम किया है। टीम को 2-1 से जीत मिली है। इसके पहले भारत ने ऑस्ट्रेलिया को उसके ही घर में 2018-19 टेस्ट सीरीज में 2-1 से हराया था। भारतीय टीम ने बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी लगातार तीसरी बार अपने नाम कर जीत की हैट्रिक लगाई है।

गाबा के मैदान पर चौथी पारी में 328 रनों के लक्ष्य को सफलतापूर्वक हासिल करते हुए भारत ने ऐतिहासिक जीत दर्ज की है। भारत ने वेस्टइंडीज का 70 साल पुराना रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिया है। इससे पहले वेस्टइंडीज ने गाबा के मैदान पर 1951 में सर्वोच्च लक्ष्य का पीछा करके जीत हासिल की थी, तब उसने 236 रन बनाए थे।

ऑस्ट्रेलियाई टीम 1988 के बाद यानी 33 साल से गाबा के मैदान पर टेस्ट मैच नहीं हारी थी। लेकिन टीम ने उसे उसके ही घर में पटक दिया है।

टीम ऑस्ट्रेलिया लगातार सात टेस्ट मैंच जीती थी। भारतियों ने आज उन्हें हरा गद्दी को अपने नाम कर लिया है।

इस ऐतिहासिक जीत के बाद ट्विटर पर टीम मे शामिल सभी खिलाड़ियों की लोग तारीफ करते नहीं थक रहे हैं। ट्विटर यूजर के अनुसार इस जीता का श्रेय अजिंक्य रहाणे को जाता है।

एक ट्विटर यूजर ने ट्वीट कर लिखा, “न कोहली, न बुमराह, न शमी, न जडेजा, न अश्विन। फिर भी हमने श्रृंखला 2-1 से जीती क्या एक ऐतिहासिक जीत !”

https://twitter.com/Harish_1397/status/1351439828089405442

बीसीसीआई ने अपने ट्विटर हैंडल से जीत के बाद की कुछ शानदार तस्वीरें साझां की हैं। जिसमें खिलाड़ियों का जोश हाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here