पाकिस्‍तान में रहने वाली अफगानिस्‍तान के राजदूत की बेटी को अगवा करने और उसको टॉर्चर करने का मामला सामने आया है। एक अधिकारिक चैनल के अनुसार पाकिस्‍तान में रहने वाली अफगानिस्‍तान के राजदूत नजीबुल्‍लाह अलिखिल की बेटी सिलसिला अलिखिल को छोड़ने से पहले किडनैपर्स ने उसके साथ मार-पीट की और उसको बहुत टॉर्चर किया गया। सूचना के अनुसार सिलसिला को किडनैपर्स ने कई घंटों के लिए बंधक बनाकर रखा था। इस घटना के बाद दोनों ही देशों के बीच बवाल बढ़ गया।

फगानिस्‍तान के विदेश मंत्रालय ने बताया है कि ये सब उस वक्‍त हुआ जब सिलसिला घर जा रही थी। मंत्रालय के इस बयान के अनुसार रिहा होने के बाद उनको इस्‍लामाबाद के अस्‍पताल में मेडिकल केयर में भर्ती किया गया। इस घटना के बाद अफगानिस्‍तान ने इस्‍लामाबाद स्थित अपने दूतावास और इसके कर्मचारियों की सुरक्षा में चूक का मामला उठाया। साथ ही अफगानिस्‍तान की तरफ से इस घटना को लेकर काफी नाराजगी जातई जा रही है।

इस दुखद घटना के बाद अफगानिस्‍तान ने फोन कर पाकिस्‍तान को तुरंत जरूरी कार्रवाई करने का आदेश दिया। अफगानिस्तान ने एक सूचना दिया है कि पाकिस्‍तान को अंतरराष्‍ट्रीय संधि के अनुसार अफगानिस्तान के दूतावास और इसमें काम करने वाले सभी कर्मचारियों और राजदूत के परिवार की सुरक्षा को पुख्‍ता करना चाहिए, सुनिश्चित करना चाहिए। अफगानिस्‍तान की तरफ से पाकिस्‍तान को ये भी कहा गया है कि वो इस संबंध में जल्‍द कार्रवाई किया जाए और दोषियों को गिरफ्तार कर जल्द से जल्द सजा दिया जाए।

वहीं पाकिस्‍तान के विदेश मंत्रालय से भी एक बयान जारी किया गया है जिसमें अफगानिस्‍तान के राजदूत नजीबुल्‍लाह अलिखिल की बेटी और एक व्‍यक्ति के साथ कुछ अज्ञात हमलावरों ने मार-पिटाई किया है। ये घटना शनिवार की बताई जा रही है। बयान में ये भी बताया जा रहा है कि इस घटना की जानकारी मिलते ही इस मामले की जांच शुरू हो रही है। अपराधियों का तलाश जारी है। बयान के अनुसार पाकिस्‍तान का विदेश मंत्रालय और संबंधित सुरक्षा एजेंसी भी इस बारे में दूतावास और राजदूत के परिवार के साथ लगातार संपर्क में हैं। पाकिस्‍तान ने विश्‍वास दिलाया है कि वो अपराधियों की धर-पकड़ में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।

आपको बता दें कि कुछ समय से पाकिस्‍तान और अफगानिस्‍तान के बीच लगातार तीखी बयानबाजी चल रही है। अफगानिस्‍तान लगातार इस बात का आरोप लगा रहा है कि पाकिस्‍तान की वजह से ही तालिबान अफगानिस्‍तान में लगातार अपने कदम बढ़ाता जा रहा है। सथ ही अफगानिस्‍तान ने ये भी आरोप लगाया है कि तालिबान को पाकिस्‍तान का पूरा समर्थन मिल रहा है। इस वजह से अफगानिस्‍तान में दिक्कत हो रही है। वहीं पाकिस्‍तान न सिर्फ इन आरोपों से अपना पल्‍ला झाड़ रहा है बल्कि वो उलटा अफगानिस्‍तान के ऊपर ही शांति प्रक्रिया को बाधित करने लगातार आरोप लगा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here