Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

खबर है कि भारतीय रेलवे इन दिनों चीन की राह पर चलने की तैयारी कर रहा है। भारतीय रेलवे अंतरमहाद्वीपीय कंटेनर ट्रेन चलाने की परियोजना पर काम कर रहा है। यह नई ट्रेन पांच देशों से होकर गुजरेगी। जिसमें बांग्लादेश, भारत, पाकिस्तान, ईरान और तुर्की शामिल हैं। यह कंटेनर ट्रेन बांग्लादेश की राजधानी ढाका से चल कर कोलकाता-दिल्ली-इस्लामाबाद-तेहरान होते हुए इंस्ताबुल तक जाएगी। बांग्लादेश से तुर्की तक जाने वाली यह ट्रेन 6,000 किमी का सफर तय करेगी। दुनिया के सबसे लंबे रूट में से एक इस नए रूट को ITI-DKD के नाम से जाना जाएगा।

Train Mapएक अंग्रेजी अख़बार के मुताबिक भारतीय रेलवे ने 15-16 मार्च को होने वाले उच्चस्तरीय बैठक में साउथ एशियन रेलवे के प्रमुख लोगों को बुलाया गया है। पाकिस्तान रेलवे के मुखिया जावेद अनवर भी इस बैठक में आमंत्रित है। सूत्रों के मुताबिक पाकिस्तान के साथ एक दिक्कत है कि वह दिल्ली से लाहौर वाया अटारी तक मालगाड़ी और यात्री गाड़ियों को इजाज़त देता है, लेकिन सुरक्षा कारणों से इस रूट पर कंटनेर ट्रेनों पर पाबंदी लगाए हुए है।

हालांकि भारतीय अधिकारियों का कहना है कि यह कोई बड़ी समस्या नहीं है इसका हल निकाल लिया जाएगा। अधिकारी के मुताबिक भारत ने पिछले वर्ष रेलवे मंत्रालय और कंटेनर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया की उच्चस्तरीय टीम को बंग्लादेश भेजा था। यह टीम ढाका से इंस्ताबुल होकर जानी वाली ट्रेन की रूट में होने वाली सभी कठिनाईयों का अध्ययन कर रही हैं और उनका हल निकालने की कोशिश कर रही है।

पिछले महीने चीन ने भी ऐसी ही एक ट्रेन चलाई है। चीन ने यूरोपीय देशों के साथ अपने कारोबारी रिस्तों को मजबूत करने के लिए लंडन तक गुड्स ट्रेन यानी मालगाड़ी चलानी शुरू की है। यह ट्रेन चीन से निकलकर कज़ाकिस्तानस, रूस, बेलारूस, पोलैंड, जर्मनी, बेल्ज़ियम और फ्रांस से होते हुए लंडन तक पहुंची। करीब 12,000 किलोमीटर की दूरी तय तकने में इस ट्रेन को 18 दिन का समय लगा। चीनी मीडिया ने दावा किया है कि हवाई सर्विस के मुकाबले ट्रेन से सामान भेजना 50 फीसदी सस्ता होगा और समुद्री रास्ते के मुकाबले इससे आधा समय भी बचेगा।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.