विषय मोदी कैबिनेट

Tag: मोदी कैबिनेट

मोदी कैबिनेट में बढ़ा महिला सशक्तिकरण, 9 महिला मंत्रियों ने ली शपथ, नहीं है कोई वंश विशेष

मोदी मंत्रिमंडल 2.0 का विस्तार हो चुका है। 7 जुलाई को 43 मंत्रियों ने गोपनीयता की शपथ ली। मोदी का मंत्रिमंडल इस...

मोदी सरकार ने 8 राज्यों के राज्यपाल बदले, कैबिनेट विस्तार की संभावनाएं जारी

बीजेपी में मंत्रिमंडल विस्तार की खबरें तेजी से चल रही हैं। इस मुद्दे को लेकर आज पीएम मोदी के घर बैठक होने...

Most Read

Delhi की हवा में नहीं हो रहा है सुधार, AQI 386 के पार

राजधानी दिल्ली (Delhi) की हवा वक्त के साथ और जहरीली होती जा रही है। इतनी जहरीली की यहां पर सांस लेना मतलब दिन में 10 सिगरेट पीने के बराबर है। रिपोर्ट के अनुसार एयर क्वालिटी इंडेक्स अगर 100 से अधिक है तो इंसान किसी तरह उसमें रह सकता है लेकिन इससे अधिक नहीं होना चाहिए। पर देश की राजधानी दिल्ली की हवा गंभीर से बेहद खराब हो गई है। दिल्ली का Air Quality Index (AQI) 386 के पार पहुंच गया है।

Corona का बढ़ रहा है खतरा, Delhi CM Arvind Kejriwal ने PM Modi से की यह मांग

भारत कोरोना (Corona) की दूसरी लहर (Second Wave) से बाहर निकल गया  है लेकिन तीसरी लहर (Third Wave) की आहट तेजी से सुनाई दे रही है। मामले एक बार फिर बढ़ते जा रहे हैं। 24 घंटों के भीतर 8 हजार से अधिक मामले सामने आए हैं। वहीं जानकारों ने पहले ही कह दिया था कि तीसरी लहर में बच्चे सबसे अधिक शिकार होंगे। यह बात सच होती दिख रही है। कोरोना मरीजों में छात्रों की संख्या सबसे अधिक दिख रही है।

COVID-19: नए वैरिएंट से फिर बढ़ रहा है कोरोना का खतरा, PM Modi ने बुलाई बैठक

COVID-19: हमारा देश कोरोना वायरस के खिलाफ जंग पूरी मजबूती से लड़ रहा है। इसी क्रम में भारत में COVID-19 वैक्सीन के 100 करोड़ से ज्यादा डोज लग चुके हैं। लेकिन अभी हाल ही में दक्षिण अफ्रीका में कोविड-19 का एक नया वैरिएंट पाया गया है और वो कोविड 19 की वैक्‍सीन का डोेज ले चुके लोगों को भी प्रभावित करने में सक्षम है और इसी के मद्देनजर PM Narendra Modi शनिवार सुबह 10:30 बजे COVID-19 स्थिति और टीकाकरण पर शीर्ष सरकारी अधिकारियों के साथ बैठक की अध्यक्षता करेंगे।

Mumbai: मंत्री Nawab Malik का आरोप, उन्हें भी Anil Deshmukh की तरह फंसाया जा सकता है

Mumbai एनसीबी प्रमुख समीर वानखेड़े से दो-दो हाथ करने वाले महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और राष्ट्रवादी पार्टी के नेता नवाब मलिक ने खुद को असुरक्षित बताया है लेकिन साथ ही सुरक्षा लेने से भी इनकार कर दिया है। नवाब मलिक ने शक जताया है कि हो सकता है कि उन्हें भी महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख की तरह कथित तौर पर झूठे केस में फंसाया जा सकता है।