विषय Baesalt bae restuarant

Tag: Baesalt bae restuarant

जानिए सोशल मीडिया पर वायरल 38 लाख रुपये का Restaurant Bill कहां का है

अभी कुछ हफ्ते पहले, 38 लाख रुपये के बिल की एक तस्वीर, जो हाल ही में लॉन्च हुए Salt Bae’s London restaurant से आई थी, उसने लोगों को चौंका दिया।

Most Read

APN News Live Updates: दुनिया भर में Omicron का खौफ, पढ़ें 4 बजे तक की सभी बड़ी खबरें

APN News Live Updates: दुनिया भर में Omicron का खौफ देखने को मिल रहा है। साउथ अफ्रीका में लॉकडाउन लगा दिया गया है। ओमिक्रोन वेरिएंट अब 25 देशों में फैल गया है। दरअसल कोविड के नए स्ट्रेन ने अब अमेरिका (US) और यूएई (UAE) में भी दस्तक दे दी है। भारत में भी कुछ मामले पाए जाने की संभावना है। भारत में भी हाई रिस्क वाले देशों से आए 6 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।

Amit Shah का Akhilesh Yadav पर हमला, पूछा- अखिलेश जी आप ‘चश्मा’ कहां से लाते हो?

केंद्रीय गृह मंत्री Amit Shah ने उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में 'मां शाकुंभरी यूनिवर्सिटी की आधारशीला रखी। इस मौके पर गृह मंत्री शाह ने सहारपुर की जनता को संबोधित करते हुए कहा कि पूरे पश्चिमी उत्तर प्रदेश में गुंडे और माफियों का शासन था। उससे पश्चिमी उत्तर प्रदेश को मुक्त करवा कर उसका सम्मान लौटाने का काम उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया है।

फिल्म ‘Tadap’ के प्रीमियर में एक साथ दिखे Athiya Shetty और KL Rahul, लोगों की टिकी निगाहें

अभिनेता अहान शेट्टी (Ahan Shetty) और तारा सुतारिया (Tara Sutaria) अपनी अपकमिंग फिल्म तड़प (Tadap) को लेकर सुर्खियों में बने हुए हैं। बता दें कि 'तड़प' 3 दिसंबर को सिनेमाघरों में रिलीज होने जा रही है। जिसके लिए मुंबई में 1 दिसंबर को 'तड़प' का प्रीमियर हुआ। जहां रिया चक्रवर्ती, काजोल, सलमान खान समेत कई सितारे पहुंचे थे। वहीं अहान की बहन अथिया शेट्‌टी के साथ क्रिकेटर केएल राहुल भी फिल्म के प्रीमियर के दौरान वहां मौजूद रहे। इस बीच सभी की निगाहें केएल राहुल पर टिकी हुई थीं।

Prashant Kishor बोले- Congress 10 साल में 90 प्रतिशत चुनाव हारी, विपक्षी नेतृत्व लोकतांत्रिक तरीके से हो तय

चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) का कहना है कि कांग्रेस (Congress) का नेतृत्व करना किसी व्यक्ति का दैवीय अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पिछले 10 सालों में 90 प्रतिशत चुनाव हारी है। ऐसे में विपक्ष का नेतृत्व कौन करेगा इसका फैसला लोकतांत्रिक तरीके से होना चाहिए।