विषय Padmanabha Swami Narayan Temple

Tag: Padmanabha Swami Narayan Temple

Padmanabhaswamy temple के खातों के ऑडिट मामले में Supreme Court ने फैसला रखा सुरक्षित

श्री पद्मनाभ स्वामी नारायण मंदिर के खातों के ऑडिट मामले में सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। आज वरिष्ठ वकील अरविंद दातार ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का आदेश ट्रस्ट के लिए नही बल्कि केवल मंदिर के ऑडिट के लिए पारित किया गया था।

Most Read

6 December: ट्विटर पर लोग मना रहे हैं शौर्य दिवस बनाम काला दिवस, देखें लोगों का Reaction

6 December 1992 को अयोध्या में भीड़ के द्वारा विवादित ढांचा गिराया गया था और इसी को लेकर हर साल कुछ लोग इस दिन को शौर्य दिवस के रूप में मनाते हैं तो कुछ लोग काला दिवस के रूप में। इस साल भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर दोनों चीज की चर्चा हो रही है। ट्विटर की बात करें तो इस पर शौर्य दिवस और काला दिवस दोनों ट्रेंड कर रहा है। सोमवार को #ShauryaDiwas के साथ हिंदू संगठनों के द्वारा ट्विटर पर ट्वीट किया जा रहा है।

APN News Live Updates: संसद में उठा नगालैंड का मुद्दा, हंगामें के बाद राज्यसभा स्थगित

APN News Live Updates: नगालैंड में एक दर्जन से अधिक आम लोगों की मौत का मामला देश की संसद तक पहुंच गया।...

Puneeth Rajkumar का ड्रीम प्रोजेक्ट ‘Gandhada Gudi’ का टीजर रिलीज, फैंस हुए भावुक

दिवंगत कन्नड़ सुपरस्टार पुनीत राजकुमार (Puneeth Rajkumar) का निधन 29 अक्टूबर को दिल का दौरा पड़ने से हुआ था। एक्टर कन्नड़ फिल्मों के सुपरस्टार थे। फैंस उन्हें प्यार से अप्पू बुलाते थे। उन्हें आज भी याद किया जाता है। एक बार फिर पुनीत की चर्चा हो रही है। बता दें कि पुनीत राजकुमार का ड्रीम प्रोजेक्ट गंधा गुड़ी (Gandhada Gudi) का आज टीजर रिलीज किया गया हैं जिसे देखकर उऩके फैंस भावुक हो रहें हैं।

Maitri Divas : भारत और बांग्लादेश आज मना रहें हैं मैत्री दिवस, जानें क्या है इसका महत्व

आज India और Bangladesh अपना पहला मैत्री दिवस मना रहा है। भारत और बांग्लादेश  ने हाल ही में  6  December  को यह दिवस मनाने का फैसला किया था। आज ही के दिन भारत ने औपचारिक रूप से बांग्लादेश को  मित्र के रूप में मान्यता दी थी। मार्च 2021 में बांग्लादेश के राष्ट्रीय दिवस में  भाग लेने गए पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने बांग्लादेश की यात्रा के दौरान 6 दिसंबर को मैत्री दिवस के रूप में मनाने का फैसला लिया था। ये फैसला  बांग्लादेश की आजादी के 50 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में लिया गया था। इसका फैसला  PM Narendra Modi और बांग्लादेशी  PM Sheikh Haseena ने किया था। जिसके बाद Foreign Secretary (Harshvardhan Shringla)  ने दोनों देशों के प्रतिनिधिमडंल के बीच हुई बातचीत की विस्तृत जानकारी साझा की थी। ये दिवस भारत और बांग्लादेश के लोगों के बीच गहरी और स्थायी मित्रता का प्रतिबिंब है।