विषय Punjab and Haryana High Court

Tag: Punjab and Haryana High Court

शादी का वादा कर आपसी सहमती से बनाए शारीरिक संबंध तो पुरुष पूर्ण दोषी नहीं, पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट की टिप्पणी

प्रेमी ने प्रेमिका को शादी का झासा देकर किया रेप, युवक ने युवती को शादी के जाल में फंसा कर बनाए शारीरिक संबंध, इस तरह की खबरें अक्सर सामने आती रहती हैं। इस मुद्दे पर पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने बड़ी टिप्पण की है। कोर्ट ने कहा कि यदि शादी का वादा कर आपसी सहमति से संबंध बनाए गए हैं तो पुरुष पूर्ण रुप से दोषी नहीं होगा।

पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने हरियाणा सरकार से पूछा- किसानों की हिरासत कानूनी रूप से कितनी वैध थी

पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने दिल्ली कूच करने वाले किसानों की अवैध हिरासत को लेकर दाखिल याचिका खारिज करने से इनकार कर दिया। हाईकोर्ट...

जज लोया मौत मामला : महाराष्ट्र सरकार ने SC में सीलबंद लिफाफे में दिए दस्तावेज़

जज लोया की मौत के मामले में सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार (16 जनवरी) को महाराष्ट्र सरकार ने जज लोया की मौत से संबंधित कागजात...

विराट-अनुष्का को दोबारा करनी पड़ सकती है शादी, ये है बड़ी वजह

अनुष्का भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और बॉलीवुड की सुपरहिट एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा ने पिछले साल 11 दिसंबर को इटली में शादी...

पराली जलाने का मामला: NGT की फटकार- आप केवल लेक्चर देना जानते हैं

खेतों में पराली जलाने के मामले में राष्ट्रीय हरित अधिकरण (NGT) ने शुक्रवार को सुनवाई के दौरान पंजाब सरकार को जमकर फटकार लगाई है।...

जुनैद खान हत्याकांड: सुनवाई पर हाई कोर्ट ने लगाई रोक

इस साल जून में बल्लभगढ़ के पास ट्रेन में भीड़ द्वारा 17 साल के जुनैद खान की हत्या के मामले में फरिदाबाद की सत्र...

पत्राचार के माध्यम से नहीं चालू होगा कोई तकनीकी कोर्स, ऐसे कोर्सों में प्रैक्टिकल ज्ञान आवश्यक: SC

देश की शिक्षा व्यवस्था की हालत कुछ ज्यादा अच्छी नहीं है। ऐसे में सुप्रीम कोर्ट का यह आदेश शिक्षा व्यवस्था में एक बड़ा सुधार...

अब गर्भपात के लिए पति की रजामंदी की जरूरत नहीं : सुप्रीम कोर्ट

गर्भपात को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने आज एक बड़ा फैसला सुनाया है। इस फैसले के मुताबिक अब किसी भी महिला को अबॉर्शन यानी गर्भपात...

पटाखा बैन: सुप्रीम कोर्ट के बाद पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट भी सख्त, 3 घंटे ही फोड़ पाएंगे पटाखे

दिवाली दीपों का त्यौहार होता है, पटाखों का नहीं। भविष्य में और दीप जल सकें इसलिए न्यायालयों ने पटाखों पर बैन लगाना शुरू कर...

Most Read

Mahaparinirvan Diwas 2021: पुण्यतिथि पर राष्ट्र ने बाबा साहेब अंबेडकर को किया याद, राष्ट्रपति कोविंद ने अर्पित की श्रद्धांजलि

Mahaparinirvan Diwas 2021:भारत के संविधान निर्माता Babasaheb Dr B.R. Ambedkar की पुण्‍यतिथि पर आज पूरा देश उन्हें याद कर रहा है। बाबा...

Wasim Rizvi ने इस्लाम छोड़ अपनाया हिंदू धर्म, Yeti Narasimhanand Giri Maharaj ने ग्रहण करवाया सनातन धर्म

इस्लाम पर उंगली उठाने वाले और कुरान में 26 आयतों की खिलाफत करने वाले शिया सेट्रल वफ्क बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी (Wasim Rizvi, Former Chairman of the Shia Central Waqf Board) ने इस्लाम छोड़ हिंदू धर्म अपना लिया है। रिजवी को डासना देवी मंदिर के महंत यति नरसिंम्हानंद गिरी महाराज (Yeti Narasimhanand Giri Maharaj) ने 10 बजे सनातन धर्म ग्रहण करवाया। पूरे विधि विधान से रिजवी हिंदू धर्म में शामिल हो गए हैं। उन्होंने बताया था कि उन्हें इस्लाम से बाहर कर दिया है, जिसके बाद हिंदू धर्म अपना रहे हैं। जाहिर है अभी कुछ दिन पहले ही वसीम रिजवी ने वसीयत जारी कर कहा था कि उन्हें निधन के बाद दफनाया न जाए बल्कि हिंदू रीति रिवाज से अंतिम संस्कार किया जाए। उन्होंने यह भी कहा था कि उनकी चिता को महंत यति नरसिंम्हानंद गिरी महाराज अग्नि दें।

Bigg Boss 15: Salman Khan के शो पर पहुंचीं Sara Ali Khan, ‘चका-चक’ गाने पर करवाया भाईजान को डांस

Bigg Boss 15: सारा अली खान (Sara Ali Khan) रविवार को बिग बॉस 15 के वीकेंड का वार एपिसोड में अपनी आगामी रिलीज अतरंगी रे का प्रचार करने पहुंची। बता दें कि एपिसोड से पहले कलर्स टीवी ने एक प्रोमो जारी किया जिसमें सलमान खान सारा के साथ मस्ती करते नजर आ रहे हैं।

Wasim Rizvi इस्लाम छोड़ अपनाने जा रहे हैं हिंदू धर्म, 10 बजे पहुंचेंगे डासना देवी मंदिर

शिया सेट्रल वफ्क बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी (Wasim Rizvi, Former Chairman of the Shia Central Waqf Board) इस्लाम छोड़ हिंदू धर्म अपनाने जा रहे हैं। वसीम रिजवी को डासना देवी मंदिर के महंत यति नरसिंम्हानंद गिरी महाराज (Yeti Narasimhanand Giri Maharaj) सनातन धर्म ग्रहण करवाएंगे। आज सुबह 10.30 बजे रिजवी डासना देवी मंदिर पहुंचेंगे। मिली जानकारी के अनुसार वसीम रिजवी को आज सुबह 10.30 बजे नरसिंम्हानंद पूरे विधि विधान से हिंदू धर्म ग्रहण करवाएंगे। जाहिर है अभी कुछ दिन पहले ही वसीम रिजवी ने वसीयत जारी कर कहा था कि उन्हें निधन के बाद दफनाया न जाए बल्कि हिंदू रीति रिवाज से अंतिम संस्कार किया जाए। उन्होंने यह भी कहा था कि उनकी चिता को महंत यति नरसिंम्हानंद गिरी महाराज अग्नि दें।