Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

पूर्व विश्व चैम्पियन और भारत के सर्वश्रेष्ठ शतरंज खिलाड़ी विश्वनाथन आनंद ने 14 चालों का वनवास तोड़ते हुए विश्व रैपिड शतरंज चैम्पियनशिप का खिताब जीता। सऊदी अरब के रियाद में आयोजित विश्व रैपिड शतरंज चैम्पियनशिप में शानदार खेल का प्रदर्शन करते हुए आनंद ने यह खिताब जीता।

इससे पहले नौवे दौर में आनंद ने दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी मैग्नस कार्लसन को हराया। इस तरह आनंद ने 2013 विश्व चैम्पियनशिप में मिली हार का बदला भी ले लिया। गौरतलब है कि 2013 में इसी खिताब को आनंद ने कार्लसन के हाथों गंवाया था। जबकि 2003 में उन्होंने फाइनल में रूस के ब्लादीमिर क्रामनिक को हराकर यह खिताब जीता था।

ऐसे जीते आनंद

आखिरी पांच राउंड शुरू होने तक आनंद संयुक्त रूप से दूसरे नंबर जबकि कार्लसन नंबर एक पर थे। लेकिन इसके बाद आनंद चैंपियन की तरह खेलें। उन्होंने टाई ब्रेक में फेदोसीव और इयन नेपोम्नियाशी को मात दी। इसके बाद आनंद ने दो ड्रॉ खेले और फिर 14वें राउंड में रूस के एलेक्जेंडर ग्रिश्चुक को हराया। उधर लीड कर रहे कार्लसन को रूस के व्लादिस्लाव आर्तेमिएव ने ड्रॉ पर रोक दिया। इससे आनंद संयुक्त रूप से टॉप पर आ गए।

इसके बाद फाइनल राउंड में आनंद ने चीन के बू शियांगजी के खिलाफ ड्रॉ खेला, जबकि कार्लसन को ग्रिश्चुक से हार का सामना करना पड़ा। इससे आनंद की जीत की राहें खुल गई। 15वें राउंड के बाद आनंद अजेय थे। उन्होंने छह मैच जीते जबकि नौ ड्रॉ रहे। इस तरह पूर्व विश्व नंबर एक और पूर्व विश्व चैम्पियन आनंद ने खिताब जीता।

आनंद के लिए यह सत्र बहुत अच्छा नहीं रहा था शानदार अंत करके उन्होंने नए सत्र के लिए भी उम्मीदें जगाई हैं। आनंद ने जीत के बाद ट्वीट करके सबको धन्यवाद दिया।

आनंद की इस उपलब्धि के लिए राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, खेल मंत्री और अन्य प्रमुख लोगों ने ट्वीट कर बधाई दी है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.