Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

कोरोना काल में लोग घर में रहकर परेशान हो गए हैं। ऐसे में उनका इकलौता सहारा फोन ही बचा है। कोरोना के कारण लोगों को र्वक फ्रॉम होम करना पड़ रहा है। इस समय काम के घंटे भी बढ़ गए हैं। पर इन सभी का असर हमारी आखों और सेहत पर पड़ता है। लगातार काम करते रहने और सही खान-पान न लेने के कारण सेहत खराब हो जाता है।

डॉक्टर्स बीमारियों से बचने के लिए मार्निग वॉक या घास पर चलने की सलाह देते हैं यानि प्रकृति के जरिए आप बहुत-सी बीमारियों को दूर कर सकते हैं। जिंदगी को तनावमुक्त, सेहतमंद और खुशनुमा बनाने के लिए सुबह सैर करना, ताजी हवा लेना और घास पर नंगे पैर चलना बहुत फायदेमंद होता है।

आज हम आपको बताएंगे कि घास पर नंगे पांव चलने से आपको क्या-क्या फायदे मिलते हैं।

1. डायबिटीज
डायबिटीज से पीड़ित मरीजों को हमेशा पैरों और घुटनों में दर्द रहता है। ऐसे में घास पर चलना आपके लिए काफी फायदेमंद हो सकता है। रोजाना घास पर चलने से पैरों के तलवों में रक्त प्रवाह सही तरीके से होता है ब्लड और इससे शुगर कंट्रोल में रहता है।

2. दिल के मरीज
सुबह के समय रोजाना घास पर नंगे पाव चलने से शरीर में खून का दौरा तेज होता है, जोकि आपको दिल की बीमारियों से दूर रखने में मदद करता है। इसके अलावा इससे खून पतला होता है, जो दिल की कोशिकाओं तक आसानी से पहुंच जाता है।

3. मजबूत हड्डियां
सिर्फ बढ़ती उम्र ही नहीं, आजकल खाने में काफी कैमिल मिला होता है। इसलिए लोगों की हड्डियां कमजोर हो जाती हैं। ऐसे में घास पर चलना आपके लिए फायदेमंद होगा। नंगे पांव घास पर चलने से हड्डियों में कैल्शियम बढ़ता है, जिससे उन्हें मजबूती मिलती है।

4. पैरों से जुड़ी मुश्किलें
अगर आपको पैरों में सूजन, छाले या जलन जैसी कोई भी समस्या है तो घास पर 10-15 मिनट जरूर चलें। ऐसे में सिर्फ आपको आराम मिलेगा बल्कि लगे पांव चलने से आपकी सभी प्रॉब्लम भी दूर हो जाएगी।

5. ब्लड प्रैशर
आजकल बहुत से लोगों में ब्लड प्रैशर की समस्या आम देखने को मिलती है। ब्लड प्रैशर को कंट्रोल में रखने के लिए लोग कई तरह की दवाइयों का सेवन करते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं घास पर चलने से आपकी यह समस्या भी दूर होती है। सिर्फ 15-20 मिनट घास पर नंगे पैर चलने से ब्लड प्रैशर कंट्रोल में रहता है।

6. चिंता से दे राहत
कोरोना के कारण घर में रह कर लोग चिंता का शिकार हो गए हैं। कहा जाता है कि चिंता चीता तक ले जाता है। पर इन सब से बचने के लिए घास पर चलना अच्छा उपाय है। ऐसे में आप सिर्फ 10 मिनट ताजी हवा में सांस ले और घास पर नंगे पांव चले। आपका तनाव भी दूर हो जाएगा और आप पूरा दिन एनर्जी से भी भरपूर रहेंगे। क्योंकि यह एक तरह से ग्रीन थेरीपी की तरह काम करती है।

7. एलर्जी व वायरल बीमारी का उपचार
आपको जानकर हैरान होगी लेकिन घास पर नंगे पांव चलने से एलर्जी और वायरल इंफेक्शन से भी राहत मिलती है। सुबह के समय घास पर नंगे पैर सैर की जाए तो पैरों में मौजूद तंत्र में हरी घास की उर्जा प्रभावित होती है। यह ऊर्जा सीधे मस्तिषक तक पहुंचती है, जिससे वायरल इंफेक्शन और एलर्जी से राहत मिलती है। आप चाहें तो थोड़ी देर घास पर बैठ भी सकते हैं।

8. बढ़ती है आंखों की रोशनी

हरी घास पर चलने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इससे आंखों की रोशनी बढ़ती है। अगर आप को चश्मा लगा है या कम दिखाई देता है तो घास पर चलने से आप की ये समस्या हल हो सकती है। रोजाना 10 मिनट घास पर चलना चाहिए। इससे धीरे-धीरे आंखे तेज होने लगेगी और आपका चश्मा भी उतर जाएगा।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.