होम लाइफस्टाइल World Sight Day : आंखों की बीमारियों को लेकर नहीं है जागरूकता,...

World Sight Day : आंखों की बीमारियों को लेकर नहीं है जागरूकता, सही इलाज नहीं मिलने से स्थाई तौर पर लोग हो जाते हैं अंधे

World Sight Day : दुनिया भर में 20 लाख से ज्यादा लोग आंखों की समस्याओं से जुझ रहे हैं, अकेले भारत में लाखों लोग ऐसे हैं जो प्रिवेंटेबल विजन लॉस (Preventable Vision Loss) या दृष्टिहीनता के शिकार हैं। एम्स के नेशनल ब्लाइंडनेस एंड विजुअल इंपेयरमेंट सर्वे इंडिया 2015-19 के अनुसार 50 साल से ऊपर की आयु के 1.99% भारतीय दृष्टिहीनता के शिकार हैं। जबकि संभावित दृष्टिहीनता का शिकार होने वालों की संख्या चिन्ताजनक है और इससे भी बड़ी चिन्ता यह है कि जिन कारणों से यह सब होता है, उनका पता आमतौर पर नहीं किया जाता है।

जागरुकता न होने के कारण दृष्टिहीनता का शिकार होते हैं लोग

इसका नतीजा यह है कि बड़ी संख्या में लोग स्थायी दृष्टिहीनता के शिकार हो जाते हैं। इनमें मोतियाबिन्द जैसे कारण शामिल हैं जो 50 साल या उससे ज्यादा के 66.2% लोगों में दृष्टिहीनता के लिए जिम्मेदार हैं। इसके अलावा ग्लूगकोमा (ऑप्टिक नर्व को नुकसान) या रेटिनल बीमारी जैसे उम्र से संबंधित मैकुलर डीजेनरेशन (एएमडी) और डायबिटीक मैकुलर एडिमा (डीएमई) जो व्यक्ति की आंखों के पिछले हिस्से में टिश्यू की परत को प्रभावित करता है। एएमडी और डीएमई दृष्टिहीनता के का मुख्य कारण है। दूसरी ओर, बीमारी का जल्दी पता लग जाए और समय पर उपचार किया जाए तो इसे दूर किया जा सकता है। इसके अलावा, ग्लूपकोमा 60 साल और ज्यादा के लोगों में दृष्टिहीनता के अग्रणी कारणों में एक है।

सही इलाज नहीं मिल पाता

सेंटर फॉर साइट ग्रुप ऑफ हॉस्पिटल्स, दिल्लीक के चेयरमैन डॉ. महिपाल एस. सचदेव ने कहा, “भारत में अब भी ऐसे एक मिलियन लोग हैं, जो मोतियाबिंद के कारण दृष्टिहीन हैं। हालांकि उनकी आँखों की रोशनी वापस लाई जा सकती थी। इसकी तुलना में 40 साल या इससे ज्या दा उम्र के लोग हैं, जिन्हें ग्लूीकोमा है और जो सही इलाज नहीं मिलने से स्थायी रूप से दृष्टिहीन हो जाएंगे। आज के मिलेनियल्स को बुरी तरह प्रभावित कर रही एक अन्य चिंताजनक बीमारी है डायबिटिक मैक्युिलर एडीमा (डीएमई), जिसकी पूरी तरह से रोकथाम नहीं की जा सकती। लेकिन इसकी शुरूआत को नियमित व्याडयाम, संतुलित आहार और सिस्टेबमैटिक स्थितियों, जैसे डायबिटीज मेलिटस पर सख्तीन से नियंत्रण और उपचार के अनुपालन से रोका जा सकता है।”

आंखों की बीमारियों का उपचार

दृष्टिहीनता रोकने के लिए बीमारी का शुरू में ही पता चलना महत्वपूर्ण है। इसके लक्षणों को पहचानना और स्क्रीनिंग करवाना। उपचार के कई विकल्प उपलब्ध हैं, जिससे बीमारी को बढ़ने से रोका जा सकता है। नेत्र रोग विशेषज्ञ से संपर्क करना और उपलब्ध विकल्पों को समझना और उन पर चर्चा करना इसे रोकने और आंखों के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण है। भारत में जो कुछ विकल्प उपलब्ध हैं, उनमें लेजर फोटो कोएगुलेशन, एंटी-वीईजीएफ (वैस्कुलर एंडोथेलियल ग्रोथ फैक्टर) इंजेक्शन, सर्जरी और कांबिनेशन थेरैपी तथा इनमें लेजर और वीईजीएफ उपचार शामिल है। इन पर विचार करना खासतौर से महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि महामारी के दौरान उपचार के साथ आंखों की नियमित देखभाल में कमी आई है और इस कारण प्रभावित मरीजों में स्वास्थ्य से संबंधित जटिलताएं देखने को मिलीं। इनमें युवा आबादी भी है। हालांकि सही जीवनशैली से अपनाकर आंखों की बीमारियों को नियंत्रित किया जा सकता है।

आंखों की बीमारियों के लक्षण

• धुंधला या अस्पष्ट दिखना
• रंग साफ नहीं दिखना
• कॉन्ट्रा स्ट या रंगों के प्रति संवेदनशीलता कम होना या
• गहरे काले निशान दिखाई देना
• सीधी लाइनें अगर टेढ
• दूर से देखने में असुविधा
• धीरे-धीरे नजर खराब होना
व्यक्ति को सतर्क रहना चाहिए और इन लक्षणों को पहचान कर तत्काल आंखों के डॉक्टर या रेटिना स्पेशलिस्ट के पास जाना चाहिए।

ये भी पढ़ें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

एनसीबी ने समीर वानखेड़े से की पूछताछ, कहा- ड्रग्स मामले की जांच करते रहेंगे, पढ़ें 27 अक्टूबर की सभी बड़ी खबरें…

APN Live Update: एनसीबी ने कहा कि आज एजेंसी ने करीब 4 घंटे तक समीर वानखेड़े का बयान दर्ज किया। उन्होंने टीम...

Bollywood News Updates: Katrina Kaif और Vicky Kaushal की गाड़ी की नंबर प्लेट ने लोगों का खींचा ध्यान, पढ़ें Entertainment से जुड़ी दिन भर...

Bollywood News Updates: विक्की कौशल (Vicky Kaushal) और कैटरीना कैफ (Katrina Kaif) लगातार सुर्खियों में हैं। दोनों के रिश्ते को लेकर लगातार चर्चा हो रही है। वैसे इस रिश्ते पर दोनों तरफ से अभी कुछ नहीं कहा गया हैं। लेकिन दोनों को अक्सर साथ में स्पॉट किया जाता है। हाल ही में दोनों को रेशमा शेट्टी के बांद्रा ऑफिस के पास स्पॉट किया गया है।

Cricket News Updates: Shoaib Akhtar ने Live Show में दिया इस्तीफा, पढ़ें खेल से जुड़ी दिनभर की सभी बड़ी खबरें

Shoaib Akhtar को PTV एंकर ने Live Show के दौरान शो छोड़कर जाने को कह दिया। Shoaib Akhtar ने शो से इस्‍तीफा दिया, अपनी माइक टेबल पर रखी और शो से बाहर निकल गए। बता दें कि T20 World Cup 2021 में Pakistan की टीम अच्छा प्रर्दशन कर रही है और उधर कई पूर्व खिलाड़ी अपने बयान के चलते चर्चा में बने हुए है। वकार यूनिस की ‘नमाज’ वाले कमेंट के लिए काफी आलोचना हुई और उसके बाद उन्हें माफी मांगनी पड़ी। पूर्व तेज गेंदबाज Shoaib Akhtar को एक लाइव टीवी शो के दौरान एंकर ने उन्हें जाने के लिए कह दिया और इसके बाद लाइव शो के दौरान ही अख्तर ने अपने इस्तीफे का ऐलान कर दिया।

6 साल बाद जनता दरबार में पहुंचे Lalu Yadav, कहा- तेजस्वी ने उखाड़ दिया, अब हम विसर्जन करने आए हैं, देखें VIDEO

राजद नेता लालू प्रसाद यादव ने आज करीब 6 साल बाद चुनावी प्रचार में हिस्सा लिया। लालू यादव के भाषण को सुनने के लिए भारी संख्या में भीड़ उमड़ी।