होम विदेश Bangladesh में अल्पसंख्यकों पर हुई हिंसा के विरोध में ISKCON का दुनियाभर...

Bangladesh में अल्पसंख्यकों पर हुई हिंसा के विरोध में ISKCON का दुनियाभर में प्रदर्शन

बांग्लादेश (Bangladesh) में हिंदुओं पर लगातार अत्याचार बढ़ता ही जा रहा है। इस बढ़ते अत्याचार को देखते हुए ISKON आज दुनियाभर में प्रदर्शन कर रहा है। ISKON ने प्रदशर्न की शुरुआत कोलकाता से कर दी है। यहां पर ISKON बांग्लादेश में मारे गए संतो और हिंदुओं की आत्मा के लिए प्रार्थना कर रहे हैं और बांग्लादेश सरकार के प्रति अपना विरोध भी जता रहे हैं।

16 अक्तूबर को ISKCON पर किया था हमला

बता दें कि 16 अक्तूबर को बांग्लादेश के Noakhali में इस्लामिक कट्टरपंथियों ने ISKON मंदिर पर हमला कर दिया था। मंदिर में मौजूद साधु संतों की पिटाई की थी साथ ही भक्तों पर लाठी डंडों से वार किया था। अभी भी कई लोगों की हालत गंभीर है। मंदिर पर होते हुए हमले को देखते हुए ISKON ने दुनियाभर में प्रदर्शन करने का ऐलान किया है।

ISKON के इस प्रदर्शन में खास बात यह है कि वे सिर्फ हिंदुओं को इंसाफ दिलाने के लिए नहीं लड़ रहे हैं बल्कि वहां पर रह रहे सभी अल्पसंख्यों के लिए लड़ रहे हैं। ISKON हिंदू, बौद्ध, जैन सभी को संरक्षण देने की मांग कर रहा है।

बता दें कि इस्लामिक कट्टरपंथियों (Islamic Fundamentalists) ने दुर्गा पूजा पंडाल (Durga Puja Pandal) पर हमले के बाद 16 सितंबर को ISKON मंदिर पर हमला कर दिया था। मंदिर को जला दिया था और उन्होंने वहां मौजूद श्रद्धालुओं को भी पीटा था। कई श्रद्धालुओं की हालत गंभीर बताई जा रही है। घटना बांग्लादेश के नोआखाली (Noakhali) में हुई थी। दुर्गा पूजा पंडाल पर हमले को अभी 2 दिन भी नहीं गुजरे थे कि इस्कॉन मंदिर पर हमला कर दिया।

ISKON ने दी थी जानकारी

इस्कॉन मंदिर ने घटना की जानकारी देते हुए कुछ भयंकर तस्वीरों को अपने अधिकारिक ट्वटिर हैंडल पर शेयर किया था।  उन्होंने ट्वीट कर लिखा था कि, ”बांग्लादेश के नोआखाली में आज इस्कॉन मंदिर और श्रद्धालुओं पर भीड़ ने हिंसक हमला किया। मंदिर को काफी नुकसान पहुंचा है और कई श्रद्धालुओं की हालत गंभीर बनी हुई है। हम  बांग्लादेश सरकार से हिंदुओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने और दोषियों को न्याय के दायरे में लाने की मांग करते हैं।”

बता दें कि बांग्लादेश में घटना ऐसे समय पर हुई है जब वहां पर रहने वाले अल्पसंख्यक हिंदू दशहरे की तैयारी कर रहे थे। इसी सप्ताह दुर्गा पूजा पंडालों पर भी हमला हुआ था। यहां पर Whatsaap Rumours के कारण इस्लामिक कट्टरपंथियों ने दुर्गा पूजा पंडालों पर हमला कर दिया था। जिसमें 4 हिंदुओं की मौत हो गई।

कई पंडालों में दुर्गा की मूर्तियों को तोड़ डाला गया था। इस बीच बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना ने दुर्गा पूजा के दौरान कमिला शहर में हिंसा फैलाने वालों के खिलाफ कड़े ऐक्शन की बात कही थी। उन्होंने कहा था कि इस हिंसा को अंजाम देने वाले लोगों को खोज निकाला जाएगा और कड़ी सजा दी जाएगी।

यह भी पढें:

Bangladesh Riots: अल्पसंख्यक हिंदुओं के लिए काम करने वाले पत्रकारों और बुद्धिजीवियों का ट्विटर हैंडल Suspend, बताया फेक

Bangladesh में अल्पसंख्यकों पर बढ़ रहा है अत्याचार! Pirganj Upazila में हिंदू गांव को किया आग के हवाले

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Mumbai: मंत्री Nawab Malik का आरोप, उन्हें भी Anil Deshmukh की तरह फंसाया जा सकता है

Mumbai एनसीबी प्रमुख समीर वानखेड़े से दो-दो हाथ करने वाले महाराष्ट्र सरकार में मंत्री और राष्ट्रवादी पार्टी के नेता नवाब मलिक ने खुद को असुरक्षित बताया है लेकिन साथ ही सुरक्षा लेने से भी इनकार कर दिया है। नवाब मलिक ने शक जताया है कि हो सकता है कि उन्हें भी महाराष्ट्र के पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख की तरह कथित तौर पर झूठे केस में फंसाया जा सकता है।

Happy Birthday Himanshi Khurana: मिस लुधियाना रह चुकीं है एक्ट्रेस, जानें उनके जीवन से जुड़े कुछ अनसुने किस्से

Happy birthday Himanshi Khurana: मशहूर पंजाबी सिंगर हिमांशी खुराना का जन्म 27 नवंबर, 1991 को पंजाब में हुआ। एक्ट्रेस आज अपना 30वां जन्मदिन मना रही हैं। हिमांशी खुराना को किसी परिचय की आवश्यकता नहीं है। क्योंकि शो बिग बॉस 13 में भाग लेने के बाद उनकी लोकप्रियता काफी बढ़ गई है। गायिका के अलावा वह एक मॉडल, और अभिनेत्री भी हैं जो मुख्य रूप से पंजाबी भाषा की फिल्मों में काम करती हैं।

Happy Birthday Suresh Raina: तीनों फॉर्मेट में शतक बनाने वाले बने थे पहले खिलाड़ी, द्रविड़ को मानते हैं अपना आदर्श

Team India के पूर्व बल्लेबाज Suresh Raina का जन्म 27 नवंबर 1986 को गाजियाबाद में हुआ था। सुरेश रैना आज शनिवार को 35 साल के हो गए। भारत के लिए खेलते हुए रैना ने अपनी एक अलग पहचान बनाई थी। रैना ने तीनों फॉर्मेट में शतक लगाने वाले पहले खिलाड़ी बने थे।

UP: दलित परिवार के सामूहिक हत्याकांड में फंसी Yogi government, विपक्षी दल हुए आक्रामक

UP के प्रयागराज के फाफामऊ थाना क्षेत्र के मोहनगंज फुलवरिया गोहरी गांव में एक दलित परिवार के चार लोगों की हत्या के मामले में योगी आदित्यनाथ की सरकार चारों तरफ से घिरती जा रही है। विपक्षी दल लगातार इस मामले में आक्रामक होकर घचना के लिए प्रशासन को दोषी ठहरा रहे हैं।